नई दिल्ली. मां दुर्गा की आराधना का महापर्व नवरात्र शुरू हो चुका है, जो 10 अक्टूबर तक चलने वाला है. इस बार प्रतिपदा तिथि दो दिन होने के कारण नवरात्रे नौ​ दिन के बजाए 10 दिन होंगे. यह महासंयोग 18 साल बाद बना है. इन मंगलमयी 10 दिनों में पूजा आराधना के साथ आपको कुछ खास बातों का भी ध्यान रखना जरूरी है, जिससे देवी की कृपा आप पर बरसती रहे. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नाखून न काटें
इस बात का ध्यान रखें कि नवरात्र के दौरान अपने नाखून न काटें. अगर कोई ऐसा करता है, तो मान्यता है कि देवी उससे नाराज हो जाती है. 
 
दाढ़ी और बाल
कोशिश करें की नवरात्र के दौरान दाढ़ी न बनाएं और बाल न कटवाएं. बेहद जरूरी न होने पर ऐसा न करने से देवी की कृपा बनी रहती है. 
 
प्याज और लहसुन न खाएं
नवरात्र में प्याज और लहसुन खाने से परहेज करना चाहिए. इन्हें तामसिक चीजें माना जाता है. इन्हें न खाकर अपने मन को शांत रखें और पूर्जा अर्चना करें. 
 
मांस न खाएं
नवरात्र के दौरान हिंदू धर्म में मांस खाना वर्जित माना जाता है. मान्यता है कि अगर आप ऐसा करते हैं देवी का अपमान होता है और इस कारण समस्याएं आ सकती हैं.
 
कन्याओं को अपमानित न करें
कन्याओं का सम्मान करें. उन्हें अपमानित करना किसी भी समय में सही नहीं कहा जाएगा. जिस घर में कन्याओं को प्यार और सम्मान मिलता है वहां हमेशा देवी की कृपा बनी रहती है.
 
कन्याओं को झूठा खाना न खिलाएं
ऐसे तो हमेशा लेकिन विशेषतौर पर नवरात्र में कन्याओं को झूठा खाना नहीं खिलाना चाहिए. माना जाता है कि इससे देवी स्वरूप कन्या का अपमान होता है और देवी नाराज हो जाती है. 
 
नशा न करें
नवरात्र में किसी भी तरह का नशा करना घोर पाप माना जाता है. व्यक्ति भले ही देवी की दिन-रात पूजा अर्चना क्यों न कर ले लेकिन नशा करने से उसकी सारे प्रयास बेकार हो जाते हैं.