नई दिल्ली. इस साल के नवरात्र शुरू हो चुके हैं और आज नवरात्र का पहला दिन है. इस दौरान कई लोग नौ दिनों तक व्रत रखते हैं. कई लोगों को व्रत रखने से कमजोरी होने लगती है. ऐसे में इन टिप्स को फॉलो करेंगे तो आप रह सकते हैंं सेहतमंद..
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
कई लोगों मानते हैं कि वजन कम करने के लिए नवरात्र सबसे अच्छा मौका है. लेकिन आपको बता दें कि नवरात्र में अधिकतर लोग वजन कम करने के चक्कर में भोजन कम करते हैं. ऐसे में कमजोरी आ जाती है. इस बात का खास खयाल रखें कि आप व्रत के साथ हेल्दी भी रहें. 
 
एक दिन का व्रत होता है फायदेमंद
एक दिन का व्रत रखने से आपके शरीर को कई लाभ भी होते हैं. अगर 24 घंटे तक भोजन न करने से शरीर में जमा वसा से काम चल जाता है. लेकिन अगर 24 घंटे से ज्यादा भूखे रहते हैं तो हमें कमजोरी महसूस होने लगती है. शरीर के कुछ महत्वपूर्ण अंगों के खराब होने का खतरा भी बढ़ जाता है.
 
 
व्रत में इन चीजों को खाएं
व्रत में दिनभर भूखा रहने के बाद शाम को तले हुए पकवान बहुत अधिक मात्रा में खाना बहुत गलत है. व्रत में खाया जाने वाला कुट्टू का आटा अच्छा होता है. क्योंकि यह आसानी से पच जाते हैं, लेकिन इस आटे की पूरी खाने की बजाय चपाती खाना सेहत के लिए फायदेमंद है. इसके अलावा व्रत में टमाटर की ग्रेवी खाने से बचना चाहिए, क्योंकि इसको बनाने में अधिक मात्रा में तेल का इस्तेमाल होता है. यदि आप स्वादिष्ट विकल्प चाहती हैं तो पनीर और आलू को भून कर उसमें नीबू का रस और थोड़ा-सा नमक मिलाकर खा सकती हैं. मीठा पसंद है तो सफेद चीनी की बजाए मिश्री या गुड़ का इस्तेमाल करना चाहिए. 
 
व्रत में इन गलतियों को न करें
व्रत के दौरान तरल चीजें लेते रहें ताकि इससे आपका शरीर हाइड्रेट रहे. गर्भवती महिलाओं, मधुमेह के मरीज और अन्य बीमार व्यक्ति को व्रत रखने से बचना चाहिए. क्योंकि उन्हें दवा खानी होती है, जिसके लिए भोजन जरुरी होता है. अगर आपको इस दौरान भूख लगे तो मेवे खाएं, शारीरिक रूप से अधिक सक्रिय लोगों को व्रत नहीं रखना चाहिए. उनकी ऊर्जा ज्यादा खर्च होती है. व्रत रखने से अंगों पर बुरा प्रभाव पड़ता है. व्रत में पैक फलों का रस, ड्रिंक्स, सोडा आदि लेने से बचें. इसके अलावा 16 साल से कम उम्र के बच्चों को भी व्रत नहीं रखना चाहिए. इस उम्र में शरीर विकसित होता है और शरीर को ज्यादा ऊर्जा की जरुरत होती है.