ग्वालियर. बीते 5 महीने से इस शख्स के घर पर एक खौफनायक साया है डर है जो पत्थर में लपेट कर धमकी भरे लेटर फेंक रहा है. जिसमें मकान खाली न करने पर जादू-टोने से पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी लिखी रहती है. लेटर फेंकने के बाद ही इसी बीच परिवार में एक लड़की की मौत हो चुकी है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्या है पूरा मामला…
महलगांव में रहने वाले 48 वर्षीय राजाराम रजक लैंड रिकॉर्ड में नौकरी करते हैं. बीते 5 महीने से राजाराम के घर के पिछवाड़े से कोई अनजान व्यक्ति पत्थर मे लपेट कर लेटर फेंक जाता है. पहला लेटर 7 मई 2016 को आया था, जिसमें मकान खाली करने और ऐसा न करने पर जान से मारने की धमकी दी गई थी.
 
इसके बाद से हर दूसरे दिन छत पर पत्थर में लिपटा नया लेटर नजर आता है.कुछ दिन पहले राजाराम रजक की एक बेटी की भी मौत हो चुकी है. इसके बाद धमकाने वाले ने एक लेटर में दावा किया कि उसे टोटके से मारा है, और मकान खाली नहीं किया तो इसी तरह पूरे परिवार को मारने देगा.
 
इस लेटर के बाद से परिवारवालें काफी डरे हुए हैं. आरोपी चिट्ठियों में धार्मिक संकेत बनाकर डराता है, लेकिन उसकी मंशा क्या है इसका पता अभी तक नहीं चल पाया है.
 
कम पढ़ा लिखा है लेटर लिखने वाला
कभी मकान खाली करने तो कभी सबको मारने की बात करता है. जांच में पुलिस ने लेटर्स को पढ़ा तो उसमें टूटी-फूटी हिन्दी लिखी हुई है. जिससे जाहिर हुआ कि या तो लिखने वाला कम पढ़ा-लिखा है, या पुलिस को गुमराह करने के लिए इस तरह की हिन्दी लिख रहा है.