नई दिल्ली. अभी हाल ही में बीएसएनएल की ओर से लाइफ टाइम के लिए मुफ्त कॉलिंग की सुविधा दिए जाने की खबरें आने के बाद इसे रिलायंस जिओ से सीधे मुकाबले के तौर पर देखा जा रहा था. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आप भी अगर अपना नम्बर मुफ्त लाइफ टाइम कॉलिंग के चक्कर में बीएसएनएल में पोर्ट कराने की सोच रहे थे जान लें कि बीएसएनएल के इस प्लान में कई झोल हैं. जो इसे कहीं से भी रिलायंस के मुकाबले में खड़े नहीं होने देता. इस प्लान में जो सबसे बड़ा झोल है वह यह कि फ्री कॉलिंग के नाम पर आपको पहले ब्रॉडबैंड कनेक्शन लेना होगा. 
 
मतलब साफ़ है कि यह ऑफर उन्हें ही मिलेगा जो बीएसएनएल के ब्रॉडबैंड यूजर हैं. ऐसे में सिर्फ  बीएसएनएल का सिम लेने से काम नहीं चलेगा.  बीएसएनएल खुद भी आपको फ्री कॉलिंग की सुविधा ब्रॉडबैंड लाइन के जरिये ही उपलब्ध कराने वाला है. इसे लेकर बीएसएनएल के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर अनुपम श्रीवास्तव का कहना है कि क्योंकि अधिकतर लोग अपना ज्यादा समय घर पर बिताते हैं इसलिए हम बीएसएनएल के ब्रॉडबैंड वायरलाइन का इस्तेमाल करने वाले हैं. 
 
इसके अलावा इस प्लान में सिर्फ 2जी या 3जी इंटरनेट ही मिल पाएगा जबकि रिलायंस अपने ग्राहकों को प्योर 4 जी इंटरनेट का अनुभव करवा रहा है. इसके अलावा  बीएसएनएल का यह प्लान सिर्फ कॉल आधारित है. ऐसे में इंटरनेट के इस्तेमाल के लिए आपको अलग से पैक डलवाना पड़ेगा.