कांकेर. पति के भाभी के साथ अवैध संबंधों से परेशान पत्नी ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. मामला छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले का हैं. कोर्ट में दाखिल अर्जी में महिला ने बताया कि उसका पति अपनी भाभी के साथ अवैध संबंधों को छोड़ने को तैयार नहीं है. समझाने पर वो प्रताडित करता है, पति ना सिर्फ उससे मारपीट करता है, बल्कि उसने दो बार गला दबाकर जान से मारने की कोशिश भी की है.  
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
महिला ने बताया कि वो शादी के बाद से ही अपनी जेठानी की प्रताड़ना का शिकार हो रही है. उसके पति के उससे नजायज संबंध हैं. महिला ने बताया कि जब वो शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुंची तो पुलिस ने भी उसे टरका दिया. जिसके बाद उसने कोर्ट में न्याय की गुहार लगाई है. महिला के अनुसार महिला का विवाह फरवरी 2015 में सामाजिक रीति-रिवाज के साथ अन्नपूर्णापारा के रहने वाले दिगंबर देवांगन से हुई थी. 
 
ससुराल आने पर उसे पता चला कि पति और उसकी भाभी के बीच अवैध संबंध है. पति अधिकांश समय अपने भाभी के पास ही रहता था. विवाहिता के अनुसार, एक बार वह घर से बाहर गई थी. घर लौटी तो भाभी के कमरे में जाने पर देखा कि पति और भाभी आपत्तिजनक स्थिति में थे. ऐसा एक बार नहीं, कई बार हुआ.
 
महिला के विरोध करने पर जेठानी ने कह दिया जो चाहे कर लो, वह उसके पति को नहीं छोड़ेगी. विवाहिता के अनुसार एक बार जब वह कमरे में सोई थी, तब पति ने गला दबाकर मारने की कोशिश की.दूसरी बार तकिए से उसका मुंह दबाकर मारने की कोशिश, लेकिन वह किसी तरह से बच गई.   
 
महिला की शिकायत पर और कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद कांकेर थाने में महिला के पति और जेठानी के खिलाफ दहेज प्रताड़ना के तहत धारा 498 और घरेलू हिंसा अधिनियम 2005 की धारा 3, 4 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है.