छिंदवाड़ा. कहते है कि प्यार की कोई उम्र नहीं होती और प्यार ऊंच नीच नहीं देखता है. इसी तरह का मामला मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में सामने आया है जहां एक 55 साल का अधेड़ अपने रिश्ते की भाभी के प्यार में इतना पागल हो गया कि उसने अपने बीबी और बच्चों को अपनाने से इंकार कर दिया है. बताया जा रहा है कि अधेड़ ने महिला को पत्नी के रूप में स्वीकार करके अपनी बीबी और बच्चों को त्याग दिया है. अब दुखी पहली बीबी ने परामर्श केन्द्र का दरवाजा खटखटाया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
परामर्श केन्द्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार छिंदवाडा़ के ग्राम खापाभाट की रहने वाली एक महिला ने केंद्र को लिखित में आवेदन दिया था कि उसके पति के रिश्ते की भाभी के साथ अवैध संबंध हैं. जिसके कारण वो घर भी नहीं आता है, साथ ही उसने अपनी संपत्ति प्रेमिका के नाम कर दी है. साथ ही बीबी और बच्चों को भी अपनाने से इंकार कर दिया है. 
 
परामर्श केन्द्र ने दोनों पक्षों को बुलाया था जहां सुनवाई के दौरान पति ने कहा कि वह पत्नी के साथ कोई भी संबंध नहीं रखना चाहता. साथ ही वो प्रेमिका के साथ ही रहने की जिद पर अड़ा है. बताया जा रहा है कि अधेड़ ने जमीन एवं मकान प्रेमिका के नाम कर दिया है. मामले की सुनवाई के बाद परामर्श केंद्र ने मामले को विचाराधीन रखा है.