बेंगलुरु. तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच कावेरी नदी के पानी को लेकर हुए विवाद के दौरान 42 बसों को आग के हवाले करने वाली एक लड़की को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. रिपोर्ट के मुताबिक इस लड़की के इशारे पर ही लोगों ने बसों में आग लगाई. युवती की गिरफ्तारी बेंगलुरू से हुई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
लड़की का नाम सी भाग्य है. वह लड़की मूलतः उत्तरी कर्नाटक की रहने वाली है. वह अपनी रोजी-रोटी चलाने के लिए मजदूरी करती है. उसकी हालत ऐसी है कि वह केस लड़ने के लिए वकील के पैसे का भी इंतजाम नहीं कर सकती.
 
फिलहाल पुलिस उससे बसों में आग लगाने का कारण पूछने में जुटी है. पुलिस जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज में पाया गया है कि भाग्य बसों पर पेट्रोल और डीजल छिड़क रही है. साथ ही अन्य लोगों को छिड़कने के लिए पेट्रोल-डीजल दे रही है.
 
 
बता दें कि कावेरी जल विवाद को लेकर सोमवार को बेंगलुरु में हिंसक प्रदर्शन हुआ था. इस दौरान बसों को आग के हवाले कर दिया था. एहतियातन पुलिस को धारा 144 लगानी पड़ी. साथ ही सुरक्षा को देखते हुए मेट्रो सेवा को भी रोक दिया गया था.