बिजनौर. शुक्रवार को छेड़छाड़ के विरोध में दो समुदायों के बीच भड़की हिंसा में एक परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 लोग जख्मी हो गए. पुलिस के अनुसार एक समुदाय के लड़कों के द्वारा दूसरे समुदाय की लड़कियों से छेड़छाड़ के बाद ये हिंसा भड़की. घटना बिजनौर के पेदा गांव की है. पुलिस अधिकारियों के अनुसार मृतक तीनों लोग पीड़ित लड़की के परिवार के हैं. इनके अलावा 8 लोग घायल हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बरेली जोन के आईजी विजय सिंह मीणा के अनुसार बस स्टैंड पर कुछ लड़कियों के साथ छेड़खानी हुई थी. मीणा के अनुसार जिस परिवार के लोगों की मौत हुई है उनका कहना है कि लड़कियों से छेड़छाड़ हुई. दोनों समुदायों के बीच लड़ाई भी हुई थी लेकिन लोगों ने बीच बचाव करवाकर सबको शांत करवा दिया था.
 
बताया जा रहा है कि इसके बाद रात को तकरीबन 8:30 बजे तकरीबन 100 लोगों ने पेदा गांव को चारों तरफ से घेर लिया था और पीड़ित परिवार पर फायरिंग शुरु कर दी. जिसमें तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, और कई अन्य घायल हो गए.  पुलिस ने इस मामले में अभी तक 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. बाकी की तलाश जारी है.