वैशाली. आज सुबह ही एक ओर जहां परिजनों को लाश को रिक्शे पर लेकर भटकना पड़ा, वहीं बिहार पुलिस का वह अमानवीय चेहरा सामने आया है जो आपको झकझोर सकता है. बिहार पुलिस के जवानों ने गंगा में डूबे एक शख्स के शव के गले में रस्सी बांधकर कई मीटर तक घसीटा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यह घटना बिहार के वैशाली जिले की है, जहां गंगा नदी में डूबने से एक शख्स की मौत हो गई थी. इसकी सूचना जब गांव वालों ने पुलिस को दी तब घटनास्थल पर पहुंची पुलिस के जवानों ने सैकड़ों लोगों के बीच लाश के गले में रस्सी बांधकर नदी से बाहर निकाला और घसीटते हुए अपनी गाड़ी तक ले गए.

 
हालांकि मीडिया में खबर के आने के बाद अमानवीय कृत्य के आरोप में दो जवानों को सस्पेंड कर दिया गया है. वहीं अब प्रशासन का कहना है कि शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है.
 
 
इससे पहले ओडिशा मे दो घटनाएं हुईं थी जिसने इंसानियत को झकझोर दिया था. एक तो एंबुलेंस के अभाव में दाना मांझी को अपनी बीवी की लाश को कंधे पर लेकर 12 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ा और दूसरी ओर एंबुलेंस नहीं मिलने के कारण पोस्टमार्टम के बाद शव के हाथ-पैर तोड़कर गठरी बनाकर परिजनों को सौंपा गया था.