जयपुर. हॉस्पिटल से बच्चा गायब होते आपने कई बार सुना होगा लेकिन क्या सुना है महिला के गर्भ से उसका 9 महीने का बच्चा गायब सुना है. ये किसी कहानी नहीं बल्कि ये घटना राजस्थान के अजमेर में हुई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मीडिया में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक अलवर गेट के रहने वाले मोनू गहलोत की पत्नी मंजू की तबियत अचानक से बिगड़ गई. उसे गंभीर हालत में जवाहरलाल नेहरु अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. परिवारवालों के दबाव में जब मंजू का पोस्टमार्टम किया गया तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ.
 
पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक मृतका के गर्भ में शिशु नहीं है, जबकि ममता कार्ड में गर्भवती बताया गया और डिलीवरी डेट भी 27 अगस्त 2016 लिखी हुई थी. महिला के गर्भ में बच्चा न होने की बात पर परिवारवाले जहां नाराज हो गए तो वहीं डॉक्टरों के मुताबिक महिला गर्भवती ही नहीं थी, बल्कि उसकी बच्चेदानी में गांठ थी, जिसकी वजह से उसका पेट फूल गया थी.