कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. एक दंपत्ति ने कर्ज चुकाने के लिए अपने पांच महीने के मासूम बच्चे को बेच दिया. आसपास के लोगों से ये बात छुपाने के लिए उन्होंने पुलिस में बच्चे के अपहरण की ​रिपोर्ट तक दर्ज करा दी. इस दंपत्ति के पहले से चार बच्चे हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
टाइम्स आॅफ इंडिया की खबर के मुताबिक बाबूपुरवा इलाके के रहने वाले खालिद और सईदा एक चाय की दुकान चलाते हैं. उन्होंने किसी शख्स से 50,000 रुपये उधार लिए थे. जब वो पैसे नहीं लौटा पाए तो कर्ज देने वाला उन पर दबाव बनाने लगा.
 
कर्ज से छुटकारा पाने के लिए मां-बाप ने अपने सबसे छोटे बेटे फैजान को जालौन में कारपेट का कारोबार करने वाले हारून को दे दिया. बच्चे के सौदे में मां-बाप को 1.60 लाख रुपये मिले. 
 
अचानक से बच्चा गायब होने पर लोगों के सवालों से बचने के लिए दंपत्ति ने पुलिस में बच्चा खोने की शिकायत दर्ज करा दी. लेकिन, ये शिकायत उन पर ही उलटी पड़ गई.
 
पुलिस की छानबीन में हारून को झाकरकटी से पकड़ लिया गया, जिसके बाद इस जघन्य अपराध की सारी कहानी सामने आई. इसके बाद खालिद और सईदा को गिरफ्तार कर लिया गया.