आगरा. नीम के पेड़ से सफेद तरल पदार्थ निकलने की घटना सामने आई है. यह पेड़ आगरा के थापी गांव में मौजूद है. स्थानीय लोगों का मानना है कि यह तरल पदार्थ दूध है, जबकि कई इसे दैवीय चमत्कार मान रहे हैं. वहीं दूसरी ओर विशेषज्ञों ने पेड़ों से द्रव्य निकलने को एक फिजीलॉजीकल डिसऑर्डर बताया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
स्थानीय लोगों के लोगों के अनुसार वो जानवरों को चारा खिला रहे थे. उस वक्त उन्होंने देखा कि नीम के तने सफेद रंग का तरल पदार्थ निकल रहा है. जिसके बाद गांव के लोगों वहां इकठ्ठे हो गए और तरल पदार्थ को दूध समझकर बर्तनों में रोककर अपने-अपने घर ले जाने लगे.
 
इसे लेकर की अलग-अलग धारणाएं सामने आई है. कुछ लोग इसे भगवान का चमत्कार समझकर पूजा करने लगे तो कुछ इसे देवी मां की नाराजगी के आंसुओं के रुप में मानने लगे. बता दें कि यह नीम का पेड़ करीब 10 साल पुराना है.