जनकपुरी. यूपी के जनकपुरी थाना क्षेत्र की तीन बहनें मनचलों से इतनी परेशान हो गई थीं कि उन्होंने अपनी पढ़ाई तक छोड़ दी. तीनों सगी बहनों ने पहले पुलिस में शिकायत की लेकिन वहां से भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी, जिसके बाद बहनों ने प्रधानमंत्री से रक्षा की गुहार लगाई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सोचने वाली बात है कि शिकायत करने थाने पहुंची तीनों बहनों को को पुलिस ने पहले दफा भगा ही दिया था. उसके बाद तीनों बहनों ने बकायदा पीएम को चिट्ठी लिखकर अपनी समस्या से अवगत कराया. उसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से यूपी को ट्वीट करके छात्राओं को सुरक्षा देने को कहा गया. पीएओ के पहल के बाद यूपी पुलिस ने मामले को गंभीरता से ले लेते हुए कार्रवाई का आदेश दिया है.
 
ये तीनों बहनें अपनी बीमार माता-पिता के साथ जनकपुरी क्षेत्र में रहती हैं. इनमें से दो लड़कियां पढ़ती हैं जबकि 1 नौकरी के लिए कोचिंग कर रही है. मनचलों का हौसला इतना बढ़ गया था कि उन्होंने कई बार तो लड़कियों के हाथ पकड़ने से भी बाज नहीं आए.
 
मनचलों से तंग आकर तीनों बहनों ने अपनी आबरु बचाने के लिए पढ़ाई छोड़ दिया. फिर भी मनचलों से पीछा नहीं छुटा तो तीनों ने पीएम और मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखा और एक वीडियो भी अपलोड किया. जिसके बाग पीएम को निर्देश पर यूपी के डीआईजी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई की बात कही है.