लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) जावेद अहमद ने रविवार को अपने ऊपर ही टेजर गन का परीक्षण करा लिया. डीजीपी आॅफिस में टेजर गन खरीदने को लेकर मीटिंग हो रही थी. तब डीजीपी ने कमरे में मौजूद आईजी और एडीजी से पूछा कि कौन टेस्ट में गोली खाएगा तो कोई सामने नहीं आया. फिर खुद डीजीपी अहमद आगे आए और अफसरों से बोले, शूट मी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल, यूपी पुलिस टेजर गन खरीदना चाहती है. डीजीपी जानना चाहते थे कि टेजर गन की गोली लगने से आखिर क्या होता है. जावेद अहमद ने वहां मौजूद अन्य अधिकारियों से पूछा था कि इसका परीक्षण अपने ऊपर कौन कराएगा. किसी के जवाब न देने पर उन्होंने अपने ऊपर ही परीक्षण करा लिया. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है.
 
टेजर गन से गोली लगते ही वह मुंह के बल गिर पड़े थे. उन्हें पीठ के जिस हिस्से पर गोली लगी थी वहां से खून भी निकलने लगा. इसके बाद डीजीपी खड़े हुए तो कहा कि तारे दिखते हैं और फिर ये बात सुनकर वहां मौजूद सहकर्मी हंसने लगे. कुछ अफसरों ने
इसका वीडियो भी बना लिया और सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया. आईपीएस एसोसिएशन ने इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर किया है.
 
टेजर गन से गोली लगने के बाद व्यक्ति दो मिनट के लिए बेहोश हो जाता है. हालांकि थोड़ी बाद वो फिर सामान्य हो जाता है. इस गन का इस्तेमाल हिंसक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए किया जाता है.
 
(यह वीडियो आईपीएस एसोसिएशन के ट्विटर हैंडल से लिया गया है)