नई दिल्ली. हमारे व्यक्तित्व को तराशकर हमें एक बेहतर इंसान बनाने में माता-पिता के साथ-साथ जिस व्यक्ति का महत्वपूर्ण योगदान होता है वह हैं हमारे अध्यापक. इन्हीें अध्यापकों को सम्मान देने के लिए हर साल आज के दिन यानी 5 सितंबर को शिक्षक दिवस (​टीचर्स डे) मनाया जाता है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अध्यापकों के हमारे जीवन में इस अहम योगदान को गूगल ने भी एक विशेष डूडल बनाकर सम्मान दिया है. गूगल ने एक बेहद प्यार और खूबसूरत डूडल बनाकर अध्यापकों को समर्पित किया है. 
 
शिक्षक दिवस हर साल पांच सितंबर को भारत के दूसरे राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस पर मनाया जाता है. राधाकृष्णन का मानना था, ‘अध्यापकों को देश में सबसे तेज दिमाग वाला होना चाहिए.’ राष्ट्रपति रहने के दौरान उन्होंने एक बार कहा था कि उनका जन्मदिवस मनाने के बजाए उनकी जन्मतिथि पर शिक्षक दिवस मनाया जाए. तब से भारत में शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा चली आ रही है.
 
आज के डूडल में कुछ पेंसिल बनाई गई हैं. ऐनक लगाए सबसे पहली पेंसिल एक शिक्षक है, जो अपने पिछे चल रहीं दूसरी विद्यार्थी पेंसिल को पढ़ा रही हैं. विद्यार्थी पेंसिलों में कुछ बड़ी उत्सुकता से उछल-उछल कर शिक्षक की बात सुन रही हैं, तो कुछ बेहद गंभीरता से पढ़ रही हैं. इसी डूडल को गूगल ने अमेरिका के शिक्षक दिवस पर भी इस्तेमाल किया था. बता दें कि पूरे विश्व में शिक्षक दिवस अलग-अलग दिन मनाया जाता है. विश्व शिक्षक दिवस हर साल 5 अक्टूबर को मनाया जाता है. 
 
शिक्षक दिवस पर स्कूल में छात्र-छात्राएं अलग-अलग तरीकों से अपने शिक्षकों के प्रति आभार व्यक्त करते हैं. आज के दिन 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थी अपने​ शिक्षक की तरह तैयार होते हैं और उनकी जगह पढ़ाते हैं. इसके जरिए शिक्षकों को अपनी जिम्मेदारियों से एक दिन की राहत देकर उनकी मेहनत को समझने की कोशिश की जाती है.