नई दिल्ली. एक आरटीआई के जवाब में उत्तराखंड सरकार ने राज्य में डॉक्टरों की 62 प्रतिशत पद खाली होने की बात का खुलासा किया है. उत्तराखंड के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में एलोपैथी के चिकित्सकों की भारी कमी है. राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले का हाल सबसे बुरा है जहां चिकित्सकों के लगभग 71 प्रतिशत पद खाली हैं. उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि उत्तराखंड में एलोपैथी चिकित्सकों के 2,467 स्वीकृत पद हैं, लेकिन इस समय महज 940 डॉक्टर ही कार्यरत हैं. दिल्ली निवासी आरटीआई कार्यकर्ता आर-एच बंसल के आवेदन के जवाब में उत्तराखंड के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने यह जानकारी दी. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर