लखनऊ. यूपी में महापुरुषों के नाम पर छुट्टियों की बरसात हो रही है. सूबे में 1 साल में 125 दिन छुट्टियां हैं.  प्रदेश में ऐसे ही हर दो चार दिन पर एक महापुरुष की जयंती मनाने का रिवाज बन गया है. महापुरुषों की जयंती के नाम पर छुट्टियों का सिलसिला एक बार शुरु हुआ तो आगे बढ़ता ही गया. सूबे में साल के 37 दिन सरकारी छुट्टियां मनाई जाती हैं.

इसके अलावा सरकारी मुख्यालयों में शनिवार और रविवार की छुट्टी अलग हैं. छुट्टियों का मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है. समाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर ने कोर्ट में याचिका दायर करके मांग की है कि यूपी सरकार सार्वजनिक छुट्टी नीति बनाए, ताकि महापुरुषों के नाम पर मौज और सियासत दोनों पर लगाम लग सके. वहीं, समाजवादी पार्टी का कहना है कि महापरुषों के बारे में बताने और समझाने के लिए छुट्टियां दी जाती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App