नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट जगत में आज एक ऐसे युग का अंत होने जा रहा है जो सालों तक याद रखा जाएगा. क्रिकेट जगत में हर किसी को वो मुकाम हासिल नहीं होता जो युवराज सिंह को हासिल हुआ. करीब 20 सालों तक इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने वाले युवराज सिंह आज क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं. भारत को कई महत्वपूर्ण मैच में जीत दिलाने वाले युवराज सिंह की सबसे यादगार पारियों में साल 2007 की वो पारी है जिसमें उन्होंने टी-20 वर्ल्ड कप में स्टूअर्ड ब्राड की 6 गेदों पर 6 छक्के मारे थे.

युवराज सिंह ने बाद में खुद बताया था कि आखिर उन्होंने स्टूअर्ड ब्राड पर अपना गुस्सा क्यों निकाला. बतौर युवराज सिंह- स्टूअर्ड ब्राड का ओवर शुरू होने से पहले एंड्रू फ्लिंटॉफ के साथ कहासुनी हो गई थी. युवराज कि शॉर्ट को फ्लिंटॉफ ने बकवास करार दिया था. इसके बाद युवराज ने उन्हें जवाब दिया था और कहा था कि तुम्हें पता है कि इस बैट से मैं तुम्हें कहां मार सकता हूं. इसके बाद अगला ओवर लेकर स्टूअर्ड ब्राड आए और फ्लिंटॉफ की हर बॉल पर उसे छक्का मारा. युवराज सिंह की ये पारी हर क्रिकेट प्रेमी के जहन में हमेशा याद रहेगी.

रिटायरमेंट अनाउंस करते हुए युवराज सिंह भावुक हो गए. उन्होंने कहा कि मेरे पिता का सपना था कि मैं भारत की तरफ से वर्ल्ड कप खेलूं और मेरा सौभाग्य है कि मैं उस टीम का हिस्सा रहा जिसने 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता.  युवराज सिंह को जब भी याद किया जाएगा एक ऐसे फाइटर के तौर पर याद किया जाएगा जिसने मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह एक योद्धा की तरह लड़ा और जीता. फिर चाहे वो खेल हो या जिंदगी की जंग. गौरतलब है कि युवराज सिंह ने कैंसर से भी लड़ाई लड़ी और उसे जीता.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर