आस्ताना: यहां के बारेस एरेना में बैठा भारतीय दल उदास था. चेहरे पर मुस्कान गायब हो चुकी थी. कुश्तियों का लुत्फ उठाने आये भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर चूक कहां हुई. उन्होंने ग्रीकोरोमन टीम को अर्मेनिया से लेकर बेलारूस में विशेष ट्रेनिंग दिलाई थी. पहले दिन की ही तरह एक-एक करके सभी पहलवान पटखनी खाते चले गये और भारतीय खेमे के हिस्से केवल निराशा ही हाथ लगी. यह हालत तब थी जबकि भारतीय पहलवानों का दूसरे दिन ड्रॉ काफी अच्छा रहा था.

46 के मुक़ाबले केवल 11 अंक

पहले दिन की तरह ही दूसरे दिन भी भारतीय पहलवान एक-एक अंक के लिए जूझते दिखाई दिये. पहले दो दिन हैवीवेट में रवि को छोड़कर कोई भी भारतीय पहलवान एक भी कुश्ती नहीं जीत सका. मंजीत, सागर, योगेश और हरप्रीत सिंह ने पहले दिन निराश किया था और दूसरे दिन मनीष, सुनील और रवि ने निराश किया. आलम ये रहा कि इन दो दिनों में भारतीय पहलवान केवल 11 अंक बटोर पाये जबकि उनके खिलाफ कुल 46 अंक बने. यदि योगेश और रवि की एक-एक कुश्ती को अपवादस्वरूप लिया जाये तो अंकों के मामले में बाकी पहलवान करीब-करीब सिफर ही रहे हैं.

रवि ने जीती एक कुश्ती

पिछले दिनों रवि ने ओलिम्पियन हरदीप को हराया था और यहां उन्होंने ताइपै के पहलवान को 5-0 से हराकर कुछ उम्मीदें जगाईं लेकिन अगले मुक़ाबले में वह चेक रिपब्लिक के पहलवान के हाथों चित हो गये.

मनीष हारे तकनीकी फॉल से

67 किलो की ग्रीकोरोमन कुश्तियों में मनीष ने बुल्गारियाई पहलवान तिहोमिओव के खिलाफ ग्राउंड पोज़ीशन से अंक बटोरकर अच्छी शुरुआत की और अपनी 1-0 की बढ़त को पहले राउंड तक बरकरार रखा लेकिन दूसरे राउंड में चार-चार अंक की दो तकनीकों के वह शिकार हो गये जिससे उन्हें यह मुक़ाबला विपक्षी की तकनीकी दक्षता से गंवाना पड़ा.
ग्राउंड रेसलिंग की कमज़ोरी

87 किलो की ग्रीकोरोमन कुश्ती में सुनील कुमार तो अमेरिका के जोसफ पैट्रिक राऊ के खिलाफ मुक़ाबले में एक भी अंक नहीं बटोर पाये. पहले राउंड में सुनील दो मौकों पर विपक्षी के पॉवर गेम के शिकार हुए और दूसरे राउंड में ग्राउंड पोज़ीशन पर गिरते ही उन्होंने दो-दो अंक गंवा दिये. एक समय संघर्षपूर्ण दिखता मुक़बला एकतरफा बन गया.

तीसरे दिन मनीष, गुरप्रीत और नवीन चुनौती रखेंगे. गुरप्रीत और नवीन के पास लम्बा अंतरराष्ट्रीय अनुभव है जबकि मनीष तेज़ी से उभरते पहलवान हैं जो ट्रायल में दो बड़े उलटफेर करने के बाद यहां तक पहुंचे हैं.

World Wrestling Championships 2019: विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप में पहले ड्रॉ ने पटखनी दी फिर दिग्गजों की हार से भारत की पहले दिन चुनौती खत्म

World Wrestling Championships 2019: विश्व चैम्पियनशिप में भारतीय ग्रीकोरोमन पहलवानों का पहले दिन निराशाजनक प्रदर्शन, योगेश और मंजीत सहित इन पहलवानों को मिली हार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App