नई दिल्ली. जब जब इस दुनिया में क्रिकेट की बात होगी. उसमें एक खिलाड़ी का नाम सबसे पहले लिया जाएगा. इस बल्लेबाज का नाम है सर डॉन ब्रैडमैन. ऑस्ट्रेलिया के ब्रैडमैन का रुतबा विश्व क्रिकेट में कुछ ऐसा है कि क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर भी उनके आगे फीके नजर आते हैं. चौंकिए मत आप विश्वास कीजिए की सचिन की तुलना इस बल्लेबाज से होती थी. तो खुद सोचिए किस तरह के क्रिकेटर होंगे ब्रैडमैन.  चलिए आपको बताते हैं कि आखिर क्या खास था इस महान क्रिकेटर में. ब्रैडमैन ने अपने करियर में 52 टेस्ट खेले जिनमें उन्होने 6996 रन बनाए. अब आपसे उनकी औसत पुछे तो आप कितने बताएंगे. जनाब अगर तुक्का भी लगाएंगे तो आप 55 से 60 के बीच में रूक जाएंगे लेकिन विश्वास कीजिए इस बल्लेबाज की टेस्ट मैचों में औसत है 99.96. क्यों आंखे फटी की फटी रह गई ना?

अभी तो शुरुआत है, आगे सुनिए. इन 52 टेस्ट में 29 शतक और 13 अर्धशतक. इन 29 शतक में से 12 दोहरे शतक…सचिन तेंदुलकर ने 200 टेस्ट मैच खेलकर इसके आधे भी दोहरे शतक नहीं लगाए हैं. सचिन ही क्यों दुनिया का कोई भी बल्लेबाज आज तक उनका ये रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाया है. इसके साथ ही ब्रैडमैन ने 300 से ज्यादा की पारी खेली. 1930 में डॉन ब्रैडमैन ने हेडिंग्ले में एक ही दिन 309 रन बनाए.टेस्ट क्रिकेट के एक ही दिन में किसी बल्लेबाज द्वारा बनाए गए ये सबसे ज्यादा रन हैं. बात अभी खत्म नहीं हुई. अगर डॉन ब्रैडमैन अपने आखिरी टेस्ट में केवल 4 रन और बना लेते तो उनका औसत 100 की हो जाती. लेकिन ऐसा नहीं हुआ और वह 00 रन बनाकर आउट हो गए. दरअसल आउट होने के पीछे भी ब्रैडमैन का एक अजीब तर्क था कि जिस तरह इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने क्रीज पर आते समय उन्हे सम्मान दिया उससे वह काफी भावुक हो गए और उनकी आंखो में आंसू आ गए. जिसकी वजह से वह गेंद को सही तरीके से देख नहीं पाए.

आपको एक और दिलचस्प किस्सा बताते हैं. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति 27 साल बाद जेल से बाहर निकले तो उनका पहला सवाल था ‘ क्या डॉन ब्रैडमेन जिंदा हैं’. खुद अंदाजा लगाइये अब इस महान हस्ती के बारे में

आज के दौर में चौके छक्के लगना बड़ी बात नहीं है. पहले शाहिद आफरीदी और फिर डिविलियर्स ने जिस तरह वनडे में शतक लगाया उससे हर कोई हैरान था .लेकिन किसी को इस बात का अंदाजा नहीं है कि डॉन ब्रैडमैन ने एक बार 3 ओवर में ही शतक बना दिया था। ये मैच ब्लैकहीथ और लिटगो के बीच खेला गया था. ये मैच सन 1931 में खेला गया था। जिसमें ब्रैडमैन ने 14 छक्का और 29 चौके जड़कर 256 रन बनाए थे. उस वक्त एक ओवर में 8 गेंदें फेंकी जाती थीं.

1: 6,6,4,2,4,4,6,1 (कुल 33 रन)
2: 6,4,4,6,6,4,6,4 (कुल 40 रन)
3: 1,6,6,1,1,4,4,6, (कुल 29 रन जिसमें 27 रन ब्रेडमैन ने बनाये थे)

ये बड़ी अचरज भरी पारी थी, लेकिन ऐसा कोई कर सकता था तो वह सिर्फ डॉन ब्रैडमैन ही कर सकते थे हालांकि ये कुछ ऐसे तथ्य हैं, जिनके बारे में अभी ज्यादा लोगों नहीं पता हैं.

OMG: 6 गेंद पर 6 विकेट, क्या कभी टूट पाएगा क्रिकेट का ये रिकॉर्ड?

OMG: 169 रन पर ढेर हो गई पूरी टीम, इस महिला क्रिकेटर ने बनाए नाबाद 160 रन

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर