नई दिल्ली: भारत को 2007 और 2011 वर्ल्ड कप जिताने वाले क्रिकेटर युवराज सिंह ने आज नम आखों से अंतराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया. युवराज सिंह ने अपने 25 सालों के लंबे करियर में देश के कई महत्वपूर्ण मैच में जीत दिलाई साथ ही कई यादगार पारियां भी खेली जो हर क्रिकेट प्रेमी के जहन में सालों साल तक ताजा रहेगी. युवराज सिंह के संन्यास लेने के खबर पर सोशल मीडिया पर भी जमकर कमेंट आ रहे हैं. कुछ लोग कह रहे हैं कि युवराज सिंह को कम से कम उनका फेयरवेल मैच देना चाहिए था. खुद युवराज सिंह ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका जिक्र किया. उन्होंने कहा कि सबको ये मुकाम हासिल नहीं होता है.

कुछ लोगों ने कहा कि आज क्रिकेट के इतिहास में एक युग का अंत हो गया. एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि साल 2000 में डेब्यू करने के बाद पहली इनिंग्स में ही युवराज ने मैन ऑफ द मैच का अवार्ड जीता. नेटवेस्ट सीरीज में अहम योगदान दिया. 2007 टी-20 सेमिफाइनल मैच में मैन ऑफ द मैच रहे. आईसीसी वर्ल्ड कप 2011 में मैन ऑफ द सीरीज रहे. कैंसर से जंग लड़ी. 2012 में टीम में कमबैक किया. 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ 150 रन मारे और आज उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया.

युवराज सिंह ने कहा कि 22 गज की पिच पर 25 साल और इंटरनेशनल क्रिकेट में 17 साल बिताने के बाद आज मैने तय किया है कि मुझे आगे बढ़ना चाहिए. इस खेल ने मुझे सिखाया कि कैसे लड़ना है, कैसे गिरना है, कैसे धूल में मिलना है और फिर कैसे खड़े होना है और आगे बढ़ना है

युवराज सिंह के अचानक से संन्यास लेने से उनके फैन्स काफी दुखी भी हैं. आज अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने जब अपने रिटायरमेंट की खबरों की पुष्टि की तो वह काफी दुखी नजर आ रहे थे. कई लोगों ने सोशल मीडिया पर उनके जाने के दुखी वाले मीम्स बना कर भी अलविदा कहा है.

Anushka Sharma Romantic Message Virat Kohli: स्टीव स्मिथ के समर्थन में उतरे विराट कोहली पर आया अनुष्का शर्मा को प्यार, कहा- ऐसे इंसान को कोई कैसे दिल ना दे बैठे

Madhuri Dixit Rome Holiday Photo: पति श्रीराम नेने और बच्चों संग रोम में छुट्टियां मना रही हैं माधुरी दीक्षित, देखें फोटो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App