Thursday, June 30, 2022

कप्तानी विवाद पर विराट ने तोड़ी चुप्पी, गांगुली के दावे पर कही ये बड़ी बात

Virat Kohli Press Conference Today

नई दिल्ली. साउथ अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से पहले विराट कोहली ने प्रेस कांफ्रेंस की और BCCI के फैसले पर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा मैंने टी-20 की कप्तानी अपनी मर्ज़ी से छोड़ी थी, मुझे BCCI की ओर से किसी ने नहीं कहा था कि आप टी-20 की कप्तानी छोड़े। विराट कोहली का यह बयान BCCI अध्यक्ष के द्वारा दिए गए बयान के बिलकुल विपरीत है. बता दें बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अपने बयान में कहा था कि उन्होंने खुद विराट कोहली से कहा था कि वे टी-20 की कप्तानी न छोड़े। उन्होंने कहा था कि विराट ने वर्कलोड का हवाला देते हुए इस पद से मुक्त होने की बात कही थी.

विराट और सौरव गांगुली के बयान

बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस करने आए विराट कोहली ने कहा- टी-20 कप्तानी को छोड़ने की बात मैंने सबसे पहले BCCI को बताई, उसको बहुत अच्छे तरह से रिसीव किया गया. किसी को भी कोई परेशानी नहीं हुई और मुझे ये नहीं कहा गया कि आप टी-20 की कप्तानी मत छोड़िए. उन्होंने कहा कि मेरे इस फैसले की तारीफ की गई थी और सब खुश थे. मैंने बीसीसीई से कहा था कि मैं वनडे-टेस्ट की कप्तानी करना चाहूंगा, अगर सेलेक्टर्स का कुछ और फैसला ना हो तो, मैंने ये ऑप्शन भी दिया था कि अगर उन्हें कुछ और लगता है तो वो उनका फैसला है.

विराट कोहली के बयान से पहले बीसीसीई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने जब विराट कोहली को कप्तानी से हटाए जाने पर अपनी पहली प्रतिक्रिया दी थी तो कहा था कि मैंने विराट कोहली से टी-20 में कप्तानी नहीं छोड़ने को कहा था लेकिन उन्होंने कहा कि वो इस पद से मुक्त होना चाहते है.

टेस्ट के बाद वनडे के लिए नहीं माँगा आराम

विराट कोहली ने सभी अटकलों पर विराम देते हुए कहा कि उन्होंने बीसीसीआई से वनडे सीरीज में आराम के लिए नहीं कहा है. उन्होंने कहा कि मुझे बदनाम करने की साजिश की जा रही है. मुझे टेस्ट टीम का ऐलान होने से एक घंटे पहले BCCI की ओर से फ़ोन किया गया था. जिसके बाद टीम के लिए चर्चा की गई और अंत में मुझे बताया गया कि वनडे के लिए कप्तान रोहित शर्मा होंगे।

रोहित से नहीं है कोई भी विवाद

विराट कोहली ने बताया कि उनका रोहित शर्मा के साथ कोई भी विवाद नहीं है. बल्कि उन्होंने कहा है कि टेस्ट मैच में उनकी कमी हमें महसूस होगी, क्योकि वो इंग्लैंड दौरे पर शानदार खेलते हुए नजर आए थे. उन्होंने कहा मैं पिछले 2 साल से यह बात कह रहा हू कि मैं अपने किसी काम या बयान से टीम को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहता हूं। मैं भारतीय क्रिकेट टीम के प्रति पूरी तरह प्रतिबद्ध हूं। साथ ही उन्होंने वनडे कप्तानी से हटाए जाने पर कहा कि आईसीसी का कोई भी बड़ा ख़िताब नहीं जीता है, मैं इस निर्णय लेने के आधार को समझता हूं।

यह भी पढ़ें;

CDS बिपिन रावत को समर्पित होगा उत्तराखंड सैन्य धाम, रक्षा मंत्री आज करेंगे शिलान्यास

वैक्सीन पर कितना इफेक्टिव है Booster Dose ?

 

SHARE

Latest news

Related news

<1-- taboola end -->