नई दिल्ली. क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर को ऐसे व्यक्ति की तलाश है जिसने उनकी मदद की थी. सचिन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर करते इस बात का जिक्र किया है. सचिन जब क्रिकेट के मैदान पर आते थे उन्हें भी नहीं पता था कि खेलते समय उन्हें परेशानी होती है. इस परेशानी को लेकर सचिन के एक फैन ने बतया तो सचिन को भी अहसास हुआ कि उनकी ये परेशानी वाकई बड़ी है और इसे बदला जा सकता है.

सचिन तेंदुलकर ने पुराने समय की याद को ताजा करते हुए एक वाक्ये पर बात करते हुए बताते हैं कि यह उस समय की बात है जब एक टेस्ट सीरीज के दौरान में चेन्नई के ताज कोडरमल होटल में ठहरा हुआ था. तब मेरे होटल के रूम में होटल का एक कर्मचारी (वेटर) आया. उस व्यक्ति ने मेरे से कहा कि मैं आपका बहुत बड़ा फैन हूं और मुझे आप से क्रिकेट के बारे में कुछ चर्चा करना चाहता हूं, लेकिन मैंने उस समय उससे मना कर दिया.

फिर उस व्यक्ति ने मुझसे बोला की सर आप को जब से कोहनी की चोट लगी और आपने एल्बो गार्ड पहना शुरू किया है तब से आप का बैट स्विंग काफी बदला है, मैंने लगातार आपका बैट को घुमाने का तारीका 7 से 8 बार देखा है. मेरी मानें तो आप अपने एल्बो गार्ड का डिजाइन थोड़ा बदलवा लें. उसके बाद मैंने उससे कहा कि मुझे आज तक किसी ने इस बात को नोटिस नहीं कराया है. उसके बाद मैंने अपने एल्बो गार्ड में परिवर्तन कराया, जिससे मेरा खेल और बैट स्विंग में बदलाव आया. मुझे आज भी उस व्यक्ति की तलाश है और मैं उससे मिलना चाहता हूं.

बता दें कि सचिन तेंदुलकर मैदान पर भी अलग पैड पहन कर आते थे. सचिन ने अपने लिए लैग पैड अलग से बनवाए थे जो काफी मौटे थे लेकिन वह हल्के थे. सचिन को इन लैग पैड को पहनने के बाद काफी सहूलियत मिली थी.

ये भी पढ़ें

MS Dhoni double standards: वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली, वीरेंद्र सहवाग जैसे दिग्गज खिलाड़ियों को उम्र का हवाला देकर टीम से बाहर करने वाले महेंद्र सिंह धोनी अपने मामले में क्यों अपना रहे दोहरा मापदंड?

Yashasvi Jaiswal Double Century Vijay Hazare Trophy 2019: पानी पूरी बेचने वाले यशस्वी जायसवाल ने विजय हजारे ट्रॉफी में जड़ा दोहरा शतक, इन रिकॉर्ड्स को बनाने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बने

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर