ओवलः भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे तीसरे टेस्ट के मैच के दौरान एक ऐसा मौका भी आया जब रवींद्र जडेजा ने अंपायरों से गेंद बदलने की मांग की. दरअसल इंग्लैंड की दूसरी पारी के 28वें ओवर के दौरान रवींद्र जडेजा को गेंद को ग्रिप करने में कुछ दिक्कत आई. उन्होंंने इसकी शिकायत अंपायर से कर गेंद बदलने की मांग की. अंपायर ने भी पहले गेंद का आकार जांचने वाले उपकरण से गेंद की जांच की और पाया कि सच में गेंद का आकार बदला हुआ है. इसके बाद उन्होंने फोर्थ अंपायर को बुलाकर गेंद बदला.

जडेजा को नई गेंद मिली और जडेजा ने तुरंत ही कमाल कर दिखाया. उन्होंने टिक कर बल्लेबाजी कर रहे मोइन अली को क्लीन बोल्ड कर दिया. ऑफ स्टम्प पर टिप्पा खाई यह गेंद मोइन अली का मिडिल विकेट उखाड़ गई. मोइन अली इस गेंद को देखते रह गए. मोइन अली इस समय 51 गेंदों पर 20 रन बनाकर खेल रहे थे और कुक का बढ़िया साथ निभा रहे थे. लेकिन जडेजा की इस गेंद का अली के पास कोई जवाब नहीं था.

आपको बता दें कि इस मैच में इंग्लैंड ने भारत को 118 रन से हरा दिया. मैच के अंतिम दिन ऋषभ पंत और केएल राहुल ने शानदार पारियां खेल भारत को बचाने की कोशिश की लेकिन वे हार से नहीं बचा सकें. जेम्स एंडरसन ने आखिरी विकेट लेकर टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बनने का रिकॉर्ड बनाया. उन्होंने महान ग्लेन मैक्ग्रा को पीछे छोड़ा. यह एलिएस्टर कुक का आखिरी मैच था, जिसे उन्होंने अर्धशतक और शतक लगाकर यादगार बना दिया. उन्हें मैन ऑफ दी मैच दिया गया.

इंग्लैंड से 1-4 से हार के बावजूद टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष पर, विराट कोहली और जेम्स एंडरसन भी टॉप पर कायम

Ind vs Eng: सुनील गावस्कर के बाद इंग्लैंड में चौथी पारी में शतक बनाने वाले सिर्फ दूसरे भारतीय बने केएल राहुल