नई दिल्ली. भारतीय टीम के निराशजनक प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया विश्व कप 2021 की रेस से बाहर हो चुकी है. ऐसे में टीम के कप्तान विराट कोहली समेत तमाम दिग्गज खिलाड़ी टीम को आगामी मैचों के लिए शुभकामनाएं दे रहे हैं. ऐसे में विराट कोहली का बीते दिन एक ट्वीट सामने आया जिसमें उन्होंने कर टीम इंडिया सेमीफइनल से बहार हो जाने की मुख्य वजह टीम का निराशजनक प्रदर्शन बताया.

ख़त्म हुआ रवि शास्त्री और विराट कोहली का युग

दरअसल, इस टी-20 विश्व कप के साथ ही भारतीय हेड कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली का युग समाप्त हो गया है. अब रवि शास्त्री हेड कोच की भूमिका में नहीं दिखाई देंगे. वहीं, बतौर कप्तान विराट कोहली का भी यह आखिरी विश्व कप था. हालाँकि कोहली एक बल्लेबाज़ के रूप में टीम के लिए खेलते नज़र आएँगे. बेशक यह जोड़ी भारत को विश्व कप नहीं दिलवा पाई लेकिन निश्चित रूप से इस जोड़ी ने को खेल जगत में एक ऊंचा ओहदा दिया है. टूर्नामेंट में नामीबिया के खिलाफ आखिरी मैच के बाद हेड कोच रवि शास्त्री ने खिलाड़ियों व साथी सपोर्ट स्टाफ के सामने अपना पद छोड़ते हुए स्पीच दी, जिसका वीडियो BCCI ने शेयर किया है.

इमोशनल होते हुए कोच रवि शास्त्री ने दी आखिरी स्पीच

अपना पद छोड़ते हुए टीम के हेड कोच रवि शास्त्री ने इमोशनल स्पीच देते हुए कहा- एक टीम के तौर पर आपने अपेक्षा से ज्यादा हासिल किया है. पिछले पांच साल में पूरी दुनिया में जाकर हर फॉर्मेट में आपने टीमों को हराया है. ये क्रिकेट इतिहास की सबसे बढ़िया टीम गिनी जाएगी, क्योंकि हर किसी के सामने देखने के लिए रिजल्ट है.

उन्होंने आगे कहा- हां, आखिरी टूर्नामेंट अच्छा नहीं रहा. हम एक-दो ICC ट्रॉफी जीत सकते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, लेकिन यही खेल है, आपको फिर मौका मिलेगा, अब अनुभव के साथ आगे जाएंगे. जिंदगी में सिर्फ वही सब कुछ नहीं है जो आपने हासिल किया, ये भी मायने रखता है कि आप कहां से आए हैं. रवि शास्त्री ने अंत में कहा- ये टीम हर चुनौती को स्वीकार कर सकती है, यही इसकी सबसे बड़ी खासियत है.

 

यह भी पढ़ें:

Anand Mahindra on Padma Awards: पद्म पुरस्कार के लिए खुद को योग्य नहीं मानते आनंद महिंद्रा, बताई वजह

Many women will fast for the first time after marriage: अनेक महिलाएं शादी के बाद पहली बार व्रत रहेंगी

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर