Rajat Sharma Resigned DDCA President Post: दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के हवाले से बड़ी खबर निकलकर सामने आई है. दरअसल दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के अध्यक्ष रजत शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दिया है. उन्होंने तत्काल प्रभाव से अपना पद छोड़ दिया है. डीडीसी ने ट्विटर के माध्यम से रजत शर्मा के इस्तीफे की जानकारी दी है. रजत शर्मा ने ट्वीट में लिखा है कि ऐसा लगता है कि ईमानदारी और पारदर्शिता वाले मेरे सिद्धांतों के साथ डीडीसीए में चलना संभव नहीं है. इन सिद्धांतों से मैं किसी भी कीमत पर समझौता नहीं कर सकता हूं. रजत शर्मा के इस्तीफे पर सोशल मीडिया पर भी लोग प्रतिक्रिया दे रहे हैं. कुछ लोग उन्हें सपोर्ट कर रहे हैं तो कुछ लोग मजे भी ले रहे हैं.

बता दें कि इसी वर्ष जुलाई में वरिष्ठ पत्रकार और एक निजी न्यूज चैनल के मालिक रजत शर्मा पूर्व क्रिकेटर मदन लाल को 517 वोटों से हराकर दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के नए अध्यक्ष बने थे. हाल ही में रजत शर्मा ने दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम रखने का प्रस्ताव रखा था. जिसे डीडीसीए के सभी सदस्यों की तरफ से मंजूरी मिल गई थी. रजत शर्मा दिवंगत केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के करीबी मित्र थे. अरुण जेटली भी डीडीसीए के अध्यक्ष रहे थे.

डीडीसीए के अध्यक्ष पद से इस्तीफे का बाद रजत शर्मा ने कहा कि जब से आपने मुझे डीडीसीए का अध्यक्ष चुना है. मैंने लगातार संवाद आपसे जारी रखा है. मैं समय-समय पर आपको अपने काम के बारे में जानकारी देता रहा हूं. मैंने डीडीसीए को बेहतर बनाने, पारदर्शी और प्रोफेशनल बनाने के लिए जो कदम उठाए हैं उसके बारे में उसको बताया है.

रजत शर्मा ने आगे कहा कि मैंने आपसे किए गए वादे को पूरा होने की जानकारी दी. यहां काम करना आसान नहीं था. लेकिन आपके विश्वास ने मुझे ताकत दी. आज मैंने डीडीसीए अध्यक्ष पद को छोड़ने का फैसला किया है. मैंने अपना इस्तीफा एपेक्स काउंसिल को भेज दिया है. आपने जो प्यार और सम्मान मुझे दिया है उसके लिए मैं आपका हमेशा आभारी रहूंगा.

कई ट्विटर यूजर्स ने रजत शर्मा को इस कदम के लिए सपोर्ट किया हैं. वहीं कुछ लोग रजत शर्मा पर तंज भी कस रहे हैं. एक ट्विटर यूजर ने लिखा है कि देर आए दुरुस्त आए. वहीं एक ट्विटर यूजर ने लिखा है कि देखो ईमानदारी और पारदर्शिता की बात कौन कर रहा है. वहीं एक दूसरे यूजर ने मजाक करते हुए लिखा है कि मोदी शाह की अदालत में न्याय हुआ है शायद. वहीं कुछ लोग कह रहे हैं कि चलो एक मोदी भक्त कम हो गया. वहीं एक ट्विटर यूजर ने लिखा है कि गद्दार सब बढ़े खुश हो रहे हैं.

IPL Auction 2020: आईपीएल नीलामी 2020 में इस बार कोलकाता में 19 दिसंबर को लगेगी खिलाड़ियों की बोली, दूसरी टीमों से इस बार खेलते दिखेंगे ये खिलाड़ी

Ajinkya Rahane Joins Delhi Capitals: अजिंक्य रहाणे ने छोड़ा राजस्थान रॉयल्स का साथ, आईपीएल 2020 के लिए दिल्ली कैपिटल्स में शामिल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App