बेंगलुरु: बेंगलुरु की एक इनवेस्टमेंट फर्म ने टीम इंडिया के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ी राहुल द्रविड़ के भरोसे को धोखा दिया है. विक्रम इनवेस्टमेंट नामक इस कंपनी ने द्रविड़ समेत बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल, प्रकाश पादुकोण और लगभग 800 अन्य लोगों को चूना लगाया है. इस कंपनी ने लोगों को बड़े मुनाफे का झांसा दिया था. लेकिन अब यह कंपनी लोगों को करोड़ों रुपए का चूना लगा चुकी हैं.

इस कंपनी ने पोंजी स्कीम चलाकर करीब 800 से ज्यादा निवेशकों को चूना लगाया है. बेंगलुरू में हाल ही में हुए इस ठगी की सबसे खास बात ये है कि इसमें सिनेमा, खेल और राजनीति से जुड़े शहर की कई बड़ी हस्तियों ने पैसा लगाया था. पुलिस के मुताबिक, राहुल द्रविड़ ने इस स्कीम में लगभग एक करोड़ रुपये लगाए थे. वहीं इसमें द्रविड़ के परिवार, सगे-संबन्धियों और दोस्तों ने भी पैसे लगाए थे. बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने भी इसमें एक करोड़ रूपए लगाए थे. इनमें से अधिकतर लोगों के पैसे डूब चुके हैं.

पुलिस ने कंपनी के मालिक राघवेंद्र श्रीनाथ, एजेंट सुतराम सुरेश, नरसिंमूर्ति, केसी नागराज और प्रहलाद को गिरफ्तार कर लिया है और 14 दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है. आपको बता दें कि सुतराम सुरेश बेंगलुरु जाने-माने खेल पत्रकार हैं. पुलिस के मुताबिक, सुतराम सुरेश ही खेल के बड़े दिग्गजों को इस स्कीम पैसा लगाने के लिए फंसाते थे. कंपनी ने निवेश पर 40% रिटर्न देने का वादा किया था. फिलहाल पुलिस इनके बैंक खाते की जांच कर रही है.

14 मार्च 2001: जब कोलकाता के ईडन गार्डन्स में वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ की साझेदारी ने बदल दी भारतीय क्रिकेट की शक्ल

लंदन के बाद दिल्ली के मैडम तुसाद म्यूजियम में लगेगा शाहरुख खान का मोम का पुतला

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App