स्पोर्ट्स डेस्क, नई दिल्ली: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और 2011 का विश्वकप दिलाने वाले महेंद्र सिंह धोनी में अब न तो चीते जैसी फुर्ती है और न ही बिजली जैसी चमक. पिछले कई मैचों में अपने प्रदर्शन की वजह से महेंद्र सिंह धोनी अलोचकों के निशाने पर हैं. उनकी धीमी बल्लेबाजी की वजह से भारतीय टीम को कई मैच भी गवांने पड़े हैं. धोनी की धीमी बल्लेबाजी का ही नतीजा था कि भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला वनडे 34 रन से हार गई.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सि़डनी में महेंद्र सिंह धोनी ने 96 गेदों पर सिर्फ 51 रन ही बनाएं और जब भारत को रनों की जरूरत थी तब वो आउट हो गए. धोनी की इस धीमी बल्लेबाजी की वजह से रन और गेद का अंतर बढ़ता गया जिससे रोहित शर्मा भी दबाब में आ गए. लंबे शॉट खेलने के चक्कर में रोहित भी आउट हो गए. धोनी ने 51 रन लगभग 53 की औसत से बनाए जबकि रोहित शर्मा ने 103 से भी ज्यादा औसत से 133 रन बनाएं. क्रिकेट एक्सपर्ट की माने तो अगर धोनी 80 के औसत से भी रन बनाते तो भारत यह मैच जीत सकता था, लेकिन धोनी ऐसा करने में पूरी तरह से बिफल रहें.

धोनी की मौजूदा उम्र 37 साल है. जिसकी वजह से उनकी मांसपेशियों में ढिलाव आ गया है. धोनी जब भी बैटिंग के लिए आते तो गेंद और बल्ले का सामंजस्य बैठाने में उनको वक्त लगता है. उम्र ज्यादा होने की वजह से महेंद्र सिंह धोनी अब लंबे शॉट नहीं लगा पाते हैं. महेंद्र सिंह धोनी दुनिया के नंबर एक मैच फिनिसर रह चुके हैं,लेकिन बढ़ती उम्र के साथ उनका यह जादू अब गायब हो गया है. हेलीकॉप्टर शॉट भी अब धोनी नहीं लगा पाते हैं.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में महेंद्र सिंह धोनी कुल 63 डॉट बाल खेली यानि कि 63 बॉल पर उन्होंने कोई रन नहीं बनाया. धोनी की यह बल्लेबाजी दर्शाती है कि अब उनकी जीते जैसी फुर्ती खत्म हो चुकी है. धोनी अगर इन 63 बालों में से 40 रन भी बनाए होते तो भारतीय टीम मैच जीत सकती थी.

 

View this post on Instagram

#TeamIndia all set and raring to go. Bring on the ODIs #AUSvIND

A post shared by Team India (@indiancricketteam) on

India vs Australia first ODI: सिडनी वनडे में गलत आउट दिए गए महेंद्र सिंह धोनी, अंपायर के फैसले पर फैन्स जमकर बरसे

MS Dhoni 10,000 ODI Runs: महेंद्र सिंह धोनी के वनडे में 10 हजार रन पूरे, ऐसा करने वाले पांचवे भारतीय क्रिकेटर बने

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App