मुंबईः मोहम्मद शमी-हसीन जहां विवाद में अब बीसीसीआई ने भी क्रिकेटर पर शिकंजा कसना शुरु कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक बीसीसीआई ने मोहम्मद शमी पर लगे मैच फिक्सिंग की आरोपों के जांच के आदेश दे दिए हैं. बीसीसीआई ने यह कदम सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) के सलाह के बाद उठाया है. इससे पहले सीओए ने बीसीसीआई को इस मामले की जांच करने को कहा था. अब बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) इस मामले की जांच करेगी.

इससे पहले सीओए प्रमुख विनोद राय ने बीसीसीआई के एंटी-करप्शन यूनिट के प्रमुख नीरज कुमार को ईमेल लिख कर कहा था कि वह इन आरोपों की जांच करें और इसकी रिपोर्ट एक हफ्ते के अंदर उन्हें सौंपे. इस मेल में बीसीसीआई के पदाधिकारियों और सीईओ राहुल जौहरी को भी मार्क किया है. मेल में मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से लगे शमी पर फिक्सिंग के आरोपों को गंभीर बताया गया है और इसके तात्कालिक जांच की जरुरत बताई गई है.

इस मेल में उस ऑडियो रिकॉर्डिंग का भी जिक्र है जिसके बारे में दावा किया जा रहा है कि वह शमी और उनकी पत्नी के बीच है. ये ऑडियो रिकॉर्डिंग सार्वजनिक रूप से उपलब्ध है. सीओए इस रिकॉर्डिंग में उस हिस्से को लेकर काफी चिंतित है जिसमें मोहम्मद भाई और अलिस्बा नामक पाकिस्तानी महिला के जरिए शमी को पैसे भिजवाने की बात की जा रही है. उधर पुलिस ने अपनी कार्यवाही शुरु करते हुए शमी का तथाकथित मोबाइल जब्त कर लिया है और उनके कार की भी जांच की जा रही है. बलात्कार के आरोपों के मद्देनजर पुलिस ने हसीन जहां का भी मेडिकल जांच करवाया है. 

मोहम्मद शमी-हसीन जहां विवादः सोशल मीडिया पर मिल रही क्रिकेटर की पत्नी को धमकियां, पुलिस से मांगी सुरक्षा

क्या 150 बीघा जमीन है मोहम्मद शमी-हसीन जहां के बीच विवाद का कारण!

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App