नई दिल्ली. पाकिस्तान को पूर्व कोच मिकी आर्थर को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. आर्थर अब श्रीलंका क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के रुप में नियुक्त किए जा सकते हैं, वहीं रिपोर्ट्स के अनुसार श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड भी पूरी तरह से तैयार है. मिकी आर्थर श्रीलंका के कोच चंडिका हाथुरूसिंघे को रिप्लेस करेंगे और वह बहुत जल्द ही टीम में कोच के रूप में शामिल हो सकते हैं. मिका आर्थर पाकिस्तान टीम के साथ करीब 3 साल जुड़े हुए रहे थे और उन्होंने क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के बाद ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि उन्होंने पाकिस्तान के साथ 2017 चैंपियंस ट्रॉफी जीती, और पाकिस्तान को टी -20 में नंबर 1 के स्थान पर भी पहुंचाया है.

मिकी आर्थर साल 2005 से 2010 तक साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम के साथ रहे. इसके साथ ही वह ऑस्ट्रेलिया के साथ साल 2010 से 2013 तक रहे और फिर पाकिस्तान के साथ उनका कार्यकाल साल 2016 से 2019 तक रहा. आर्थर ने पाक टीम को 2017 में अपनी पहली चैंपियंस ट्रॉफी जीतने में काफी मदद की थी. हालांकि विश्व कप 2019 के बाद पाकिस्तान की टीम के खराब प्रदर्शन की वजह से उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने पद से हटा दिया था.

वहीं श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड भी वर्ल्ड कप 2019 के बाद से ही एक नए कोच की तलाश में है. हालांकि चंडिका हथुरूसिंघे का एसएलसी के साथ कॉन्ट्रैक्ट दिसंबर 2020 तक है. अगर एसएलसी उन्हें इस पद से हटाता है तो उन्हें दिसंबर तक की सैलरी देनी होगी.

अगर मिकी आर्थर हाल ही में श्रीलंका की टीम के साथ बतौर हेड कोच जुड़ जाते हैं तो उन्हें टीम के साथ पहला दौरा पाकिस्तान का ही करना होगा. क्योंकि पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज होनी है जो 11 दिसंबर से 23 दिसंबर तक होनी है. पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच खेले जानी वाली दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच रावलपिंडी में 11 दिसंबर को खेला जाएगा, इसके बाद दूसरा मैच 19 दिसंबर को कराची के मैदान पर होना है.

ये भी पढ़ें.

PCB Invite South Africa For T20I Series: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने साउथ अफ्रीका को टी20 सीरीज के लिए भेजा प्रस्ताव, सीएसए जल्द ले सकता है फैसला

Internationl Cricket Back in Pakistan: पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी, श्रीलंका के बाद पीसीबी ने साउथ अफ्रीका को टी20 सीरीज खेलने के लिए किया इनवाइट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App