Marnus Labuschagne On Jasprit Bumrah: भारत के खिलाफ सिर्फ एक टेस्ट खेलने वाले ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्नस लाबुशाने को उम्मीद है कि दिसंबर में जब दोनों टीमों का टेस्ट सीरीज में आमना-सामना होगा तो वह अपना दबदबा बनाने में सफल रहेंगे. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तेजी से उभरने वाले इस बल्लेबाज ने हालांकि माना कि विश्व स्तरीय भारतीय गेंदबाजों में जसप्रीत बुमराह का सामना करना सबसे मुश्किल होगा.

लाबुशाने 2018-19 की सीरीज में भारत के खिलाफ सिडनी में खेले गए टेस्ट में मैदान में उतरे थे. वह दिसंबर में भारतीय टीम के दौरे का बेसब्री से इंतजार कर रहे है जहां दोनों टीमों के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. इस 26 साल के बल्लेबाज ने ब्रिसबेन से कहा, वे सभी अच्छे गेंदबाज है लेकिन बुमराह की चुनौती से निपटना मुश्किल होगा. वह लगभग 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लगातार गेंदबाजी करने और परिस्थितियों का साथ मिलने पर गेंद को स्विंग करने की क्षमता रखते हैं.

ऑस्ट्रेलिया के लिए 14 टेस्ट में चार शतक और सात अर्धशतक के साथ 63 की औसत से रन बनाने वाले लाबुशाने ने कहा, आप हमेशा सर्वश्रेष्ठ के खिलाफ खुद को परखना चाहते हैं. जसप्रीत शायद उस गेंदबाजी आक्रमण का अगुआ है. लाबुशाने ने कहा कि अनुभवी इशांत शर्मा ने भी पिछले दो वर्षों में काफी सुधार किया है. मौजूदा दौर के सबसे प्रतिभाशाली बल्लेबाजों में से एक माने जाने वाले लाबुशाने ने कहा, इशांत ने पिछले दो वर्षों में शानदार गेंदबाजी की है.

किसी भी बल्लेबाज के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का दूसरा सत्र सबसे मुश्किल माना जाता है क्योंकि विरोधी टीमों को खिलाड़ी के खेल के बारे में पता होता है और लाबुशाने इस बात को अच्छे से समझते है. उन्होंने कहा, पहला साल मेरे लिए शानदार रहा. उम्मीद है कि इस साल मैं और भी अच्छा करूंगा. दुनिया की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण में से एक भारत के खिलाफ खुद को परखने का इंतजार कर रहा हूं.

Harbhajan Singh On Rajeev Gandhi Khel Ratna Award: हरभजन सिंह ने पंजाब सरकार से खेल रत्न का नॉमिनेशन वापस लेने को कहा, बताई यह वजह

Kapil Dev On Team India: कपिल देव को विराट कोहली पर यकीन, बोले- ICC ट्रॉफी जरूर जीतेगी भारतीय टीम