नई दिल्ली. कपिल देव, अंशुमान गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी की तीन सदस्यीय CAC ने शुक्रवार को सर्वसम्मति से निर्णय लेकर रवि शास्त्री को टीम इंडिया का मुख्य कोच नियुक्त किया जिसके बाद बीसीसीआई ने एक ऑफिशियल लेटर जारी किया. अब इस कपिल देव की अध्‍यक्षता वाली सीएसी को ट्रोल किया जा रहा है और इसकी वजह है बीसीसीआई का वह लेटर. इस लेटर पर उन तीन लोगों के नाम थे जो टीम इंडिया के कोच के पद की रेस में आगे थे, पहले नंबर पर रवि शास्त्री और न्यूजीलैंड के माइक हेसन दूसरे नंबर पर व ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी तीसरे नंबर पर थे.

जिस समय ये लेटर बीसीआई ने जारी किया तो किसी की इस पर नजर नहीं गई लेकिन अब इस लेटर में माइक हेसन के नाम में गलती दिखी तो सोशल मीडिया पर सीएसी और बीसीसीआई को ट्रोल किया जा रहा है. माइक हेसन के नाम की स्पेलिंग Mike Hesson है लेकिन बीसीसीआई के लेटर में Mike Hassen लिखी हुई है. बड़ी बात यह है कि यह नाम प्रिंट किए हुए नहीं है जिससे आप कहें कि यह टाइपो मिस्टिक हो सकती है क्योंकि इस नाम को तो पेन से लिखा गया है. अब इस गलती की वजह से सोशल मीडिया पर लोग सीएसी और बीसीसीआई को जमकर ट्रोल कर रहे हैं.

यहां देखें बीसीसीआई के हेड कोच वाला लेटर

इससे पहले सीएसी को इसलिए भी ट्रोल किया जा रहा था कि सीएसी ने कप्तान विराट कोहली की बात मानी है और इसलिए ही रवि शास्त्री को दोबारा कोच बनाया है. हालांकि इस बात को लेकर कपिल देव ने साफ कह दिया था कि हमने कोहली की राय नहीं ली है.  भारत के पूर्व क्रिकेटर लालचंद राजपूत और रॉबिन सिंह शास्त्री, हेसन और मूडी के अलावा अन्य दो शॉर्टलिस्टेड उम्मीदवार थे. वहीं वेस्ट इंडीज के पूर्व क्रिकेटर फिल सिमंस आखिरी समय पर ही बाहर हो गए थे. भारतीय क्रिकेट टीम के साथ शास्त्री का चौथा कार्यकाल होगा, इससे पहले वह क्रिकेट प्रबंधक (बांग्लादेश का 2007 का दौरा), टीम निदेशक (2014-2016) और मुख्य कोच (2017-2019) के रूप में रह चुके हैं. 

BCCI Announce Indian Cricket team Head Coach Ravi Shastri Continue: कपिल देव ने किया ऐलान, रवि शास्‍त्री बने रहेंगे भारतीय टीम के हेड कोच

Social Media Reaction On Indian Cricket team Head Coach Ravi Shastri: रवि शास्त्री लगातार दूसरी बार बने भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच, सोशल मीडिया पर लोग बोले- विराट कोहली की चली मनमानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App