मुंबई।  विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा को आपत्तिजनक मैसेज भेजने और डराने के आरोप में पत्रकार बोरिया मजूमदार को आज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बैन कर दिया. बीसीसीआई ने बोरिया को एक इंटरव्यू को लेकर ऋद्धिमान साहा को डराने का दोषी पाया है।

प्रतिबंध का मतलब

बता दें कि बीसीसीआई के प्रतिबंध लगाने के बाद अब बोरिया भारतीय क्रिकेट बोर्ड से जुड़े हुए किसी भी स्टेट बोर्ड के स्टेडियम में इंट्री हासिल नहीं कर पाएंगे. इसके साथ ही बोर्ड की ओर से दी जाने वाली मान्यता भी उनको नहीं दी जाएगी. प्रतिबंधों में बोर्ड द्वारा रजिस्टर्ज किसी भी क्रिकेटर को इंटरव्यू ना मिलने की बात भी शामिल है।

आईसीसी भी कर सकता है ब्लैकलिस्ट

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार बीसीसीआई बोरिया मजूमदार को ब्लैकलिस्ट करने के लिए आईसीसी को पत्र लिखेगी. जिसमें किसी भी खिलाड़ी को बोरिया के साथ नहीं जुड़ने को कहा जाएगा. इसके साथ ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड सभी स्टेट बोर्ड को भी प्रतिबंध की सूचना देगी।

पूरा मामला

गौरतलब है कि क्रिकेटर ऋद्धिमान साहा ने ट्वीट कर लिखा था कि ‘भारतीय क्रिकेट में मेरे सभी योगदानों के बाद, एक सम्मानित खेल पत्रकार द्वारा मुझे ये सब सहना पड़ रहा है. पत्रकारिता आज कहां चली गई है’ साहा ने ट्वीट की अपनी चैट के स्क्रीनशॉट में पत्रकार के नाम को छुपा दिया था. जिसमें पत्रकार साहा को कह रहा था कि ‘तुमने मुझे फोन नहीं किया और अब मैं कभी भी तुम्हारा इंटरव्यू नहीं करूंगा’. पत्रकार ने आगे लिखा था कि ‘मैं कभी अपमान को सहजता से नहीं लेता हूं और मुझे ये हमेशा याद रहेगा’।

यह भी पढ़ें:

Delhi-NCR में बढ़े कोरोना के केस, अध्यापक-छात्र सब कोरोना की चपेट में, कहीं ये चौथी लहर का संकेत तो नहीं

IPL 2022 Playoff Matches: ईडन गार्डन्स में हो सकते हैं आईपीएल 2022 के प्लेऑफ मुकाबले, अहमदाबाद में होगा फाइनल

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर