Wednesday, June 29, 2022

आईपीएल 2022: इस सीजन में हार-जीत में कितना रहा है टॉस का योगदान? क्या कह रहे आंकड़े

मुंबई। आईपीएल 2022 सीजन के लीग सभी मैच खेले चुके है. सीजन के प्लेऑफ के मैच खेले जाने बाकि है. आज शाम को 7.30 बजे पहला क्वॉलीफायर मुकाबला कोलकाता के ईडेन गार्डेन मैदान में खेला जाएगा. यह मुकाबला गुजरात और राजस्थान के बीच खेला जाना है. बता दें कि पहला क्वॉलीफायर और एलिमिनेटर कोलकाता के ईडेन गार्डेन के मैदान में खेला जाएगा, जबकि दूसरा क्वॉलीफायर और फाइनल अहमदाबाद के नरेन्द्र मोदी मैदान में खेला जाना है.

इस सीजन टॉस की भी कई मैचों में अहम भूमिका रही है. ऐसा माना जा रहा है कि प्लेऑफ के मुकाबलों में भी टॉस अहम भूमिका निभा सकता है. तो चलिए नजर डालते हैं इस सीजन लीग मैचों में टॉस कितान अहम रहा. साथ ही क्या टॉस से मैच के रिजल्ट पर असर हुआ?

आंकड़ें क्या कहते हैं

आईपीएल के इस सीजन के 27 मैचों में उसी टीम को जीत मिली है. जिस टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी की है. जबकि 29 मुकाबले ऐसे रहे है जहां टॉस जीतकर पहले बॉलिंग करते हुए टीम को हार का सामना करना पड़ा. इसके अलावा टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने वाली टीम को 7 मैचों में जीत मिली है. वहीं, टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने वाली टीम को 7 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा. बता दें कि इस सीजन में 56 मुकाबलों में ऐसा हुआ जब टॉस जीतने के बाद कप्तानों ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया.

कोलकाता में बदला मौसम का मिजाज

आईपीएल के इस सीजन में 14 मुकाबलों में ऐसा हुआ जब टॉस जीतने वाले कप्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया. सीजन के पहले 4 मुकाबलों में उस टीम को जीत मिली, जिसने बाद में बल्लेबाजी की. वहीं 5वें मैच में राजस्थान ने सनराइजर्स हैदराबाद को हराया था. बता दें कि इस सीजन में यह पहला मौका था जब किसी टीम ने पहले बैटिंग करते मैच जीता था. सीजन के दो प्लेऑफ मैच कोलकाता के ईडेन गार्डेन मैदान में खेले जाएंगे. दरअसल, पिछले कुछ दिनों से कोलकाता में मौसम का मिजाज बदला हुआ है. कोलकाता  में लगातार बारिश हो रही है. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच होने वाले पहले क्वॉलीफायर मुकाबले में बारिश के कारण खलल न पड़ जाए. ऐसी स्थिति में टॉस जीतने के बाद दोनों टीमों के कप्तान पहले गेंदबाजी करना चाहेंगे.

यह भी पढ़ें :

बीजेपी MYY फॉर्मूला: पीएम मोदी राजस्थान बीजेपी की लगाएंगे नैया पार, चुनावों में फिर ‘MYY’ फॉर्मूला बनेगा संकटमोचन

भारत में ओमिक्रोन सबवैरिएंट BA.4 का पहला केस मिला, इन्साकाग ने की पुष्टि, जानें क्या है ये नया वैरिएंट?

SHARE

Latest news

Related news