नई दिल्ली: RCB के पूर्व कोच रे जेनिंग्स ने एक इंटरव्यू में सनसनीखेज बात कही है। रे जेनिंग्स ने क्रिकेट.कॉम नामक वेबसाइट से बातचीत करते हुए कहा कि RCB के IPL खिताब नहीं जीत पाने के पीछे कप्तान विराट कोहली की जिद है। रे जेनिंग्स ने आगे कहा कि यह कोच की ड्यूटी है कि वह सभी खिलाड़ियों को देखें, लेकिन विराट की अपनी रणनीति होती थी। वह कई दफा टीम में अकेले दिखते थे, क्योंकि कोहली अयोग्य खिलाड़ियों का समर्थन करते थे। मैं चाहता था कि कुछ खिलाड़ी कुछ खास परिस्थितियों में गेंदबाजी या बल्लेबाजी करें, लेकिन उनकी योजना कुछ और होती थी। आपको बताते चलें कि रे जेनिंग्स 2009 से 2014 तक रॉयल चैलेंजर बैंगलूरू के कोच रहे।

‘टेस्ट में कोहली बेस्ट’

हालांकि विराट कोहली 60 फीसदी जीत के साथ टेस्ट क्रिकेट के सबसे सफल कप्तान हैं, लेकिन IPL में कप्तान के तौर पर उनका रिकार्ड कुछ खास नहीं है। गौरतलब है कि RCB अब तक IPL खिताब नहीं जीत पाई है, हालांकि RCB की टीम 2009, 2011 और 2016 में फाइनल तक पहुंची थी। जेनिंग्स की कोचिंग के दौरान RCB ने कई बेस्ट खिलाड़ी देखे और टीम 2 बार फाइनल में पहुंची। उन्होंने आगे कहा, ”आईपीएल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अलग है। 6 सप्ताह के समय में कुछ खिलाड़ियों का चयन होता है और कुछ अनदेखे रह जाते हैं। जब मैं कोच था तो मुझे लगता था कि कुछ खिलाड़ियों को ज्यादा खेलना चाहिए था, लेकिन कोहली का नजरिया कुछ और था।

‘कोहली का बेस्ट आना बाकी’

रे जेनिंग्स ने आगे कहा कि ये सब अतीत की बातें हैं, अब मैं RCB को खिताब जीतते देखना चाहूंगा। उन्होंने कहा, ”हमें यह बात नहीं भूलनी चाहिए कि IPL में मैच बहुत छोटे अंतर से जीते या हारे जाते हैं। यहां नीलामी भी बहुत अहमियत रखती है।” विराट कोहली की तारीफ करते हुए जेनिंग्स ने कहा, ”विराट कोहली के पास अविश्सनीय ब्रेन है। उनके स्टैंडर्ड बहुत बड़े हैं। लेकिन कुछ बिंदुओं पर कोहली को ऐसा एडवाइजर चाहिए, जो उन्हें गाइड कर सकें। उन्हें एक खिलाड़ी और कप्तान के रूप में देखना सुखद होगा। उनका बेस्ट आना अभी बाकी है।”

IPL 2020: इस बार आईपीएल में खूब चर्चा में रहेंगे लेग स्पिनर

IPL 13 Analysis: आईपीएल सीजन-13 में किस टीम की ओपनिंग जोड़ी है पॉवरप्ले की मास्टर?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर