नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में टाइटल स्पॉन्सर चीनी मोबाइल फोन वीवो नहीं होगा. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और वीवो ने आईपीएल 2020 सीजन के लिए करार खत्म कर दिया है. बीसीसीआई ने गुरुवार को घोषणा की कि चीनी फोन मेकर कंपनी वीवो, आईपीएल के इस सीजन में टाइटल स्पॉन्सर नहीं होगी. हालांकि पहले वीवो का आईपीएल टाइटल स्पॉन्सर के लिए 2022 तक का करार था वीवो ने 2018 से 2022 तक पांच साल के लिए 2190 करोड़ रुपये का टाइटल स्पॉन्सरशिप करार किया था जिसमें हर साल वीवो को करीब 440 करोड़ रुपये देने थे.

लेकिन चीन के साथ तनावपूर्ण रिश्तों को देखते हुए बीसीसीआई ने वीवो के साथ अपना करार खत्म करने का फैसला किया है. दरअसल आईपीएल का शेड्यूल जारी होने के साथ ही चर्चा चल पड़ी थी कि जब हमारे चीन के साथ रिश्ते इतने बिगड़ गए हैं तो फिर वीवो जो चीनी मोबाइल फोन है वो आईपीएल का टाइटल स्पॉन्सर कैसे हो सकता है? इसी चर्चा को विराम देते हुए बीसीसीआई और आईपीएल के पदाधिकारियों ने वीवो का कॉन्ट्रैक्ट खत्म करने का फैसला किया है. आईपीएल 2020 का टाइटल स्पॉन्सर कौन होगा फिलहाल इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया गया है. गौरतलब है कि आईपीएल साल 19 सितंबर से युनाइटेड अरब अमीरात में खेला जाएगा जिस बाबत सरकार से बीसीसीआई को अनुमति मिल गई है. आईपीएल का फाइनल मैच 10 नवंबर को होगा. इससे पहले 29 मार्च को आईपीएल सीजन 13 की शुरूआत होनी थी लेकिन कोविड-19 की वजह से इसे स्थगित करना पड़ा.

सरकार से आईपीएल की अनुमति मिलने के साथ ही खिलाड़ियों ने भी जी जान से प्रैक्टिस शुरू कर दी है. पिछले काफी समय से लॉकडाउन की वजह से घर में बंद खिलाड़ियों की पर्फार्मेंस कैसी हो गई है ये जरूर फैंनचाइजी के लिए चिंता का विषय होगी. इस बार आईपीएल खाली स्टेडियम में होगा, यानी मैच का सीधा प्रसारण देखने के लिए स्टेडियम में दर्शक नहीं होगे. हालांकि टेलीविजन कवरेज के जरिए लोग मैच का लुत्फ उठा पाएंगे.

England vs Pakistan: पहले टेस्ट में पाकिस्तान की बल्लेबाज़ी का कड़ा इम्तिहान

IPL 2020 Schedule: 19 सितंबर से यूएई में आईपीएल 2020 का आगाज, 10 नवंबर को होगा फाइनल मुकाबला

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर