दिल्लीः क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट यानि टी-20 को बल्लेबाजों का गेम माना जाता है. लेकिन भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते. उन्होंने कहा है कि यह मानना कि टी-20 या आईपीएल सिर्फ बल्लेबाजों का खेल है, सरासर गलत है. उन्होंने कहा कि आप क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में सिर्फ रन बनाकर नहीं जीत सकते. इसके लिए आपके गेंदबाजों को रन रोकना होगा और विकेट भी उखाड़ने होंगे.

आईपीएल में बेंगलुरू रॉयल चैलेंजर्स के कोच नियुक्त किए गए नेहरा अभी खुद को कोच नहीं मानते. उनका कहना है कि अभी उन्होंने हाल ही में क्रिकेट से संन्यास लिया है और मैं अचानक ही क्रिकेटर से कोच नहीं बन सकता. उन्होंने ये भी कहा कि वह दो महीने के आईपीएल के दौरान किसी की गेंदबाजी को बदल भी नहीं सकते. उनका काम होगा कि वे गेंदबाजों को अनुकूल मनोस्थिति दें ताकि वे मैदान पर अच्छा प्रदर्शन कर सकें.

नेहार ने अपने कोचिंग करियर के बारे में कहा कि यह मेरे लिए नई शुरुआत है. हर कोई जानता है कि आरसीबी कितनी बड़ी फ्रैंचाइजी है. यह टीम तीन बार फाइनल में पहुंची है. हालांकि अभी तक हम खिताब जीतने में कामयाब नहीं हो पाए हैं. नेहरा ने कहा कि लेकिन हमें उम्मीद है कि इस बार परिणाम कुछ अलग होंगे. 7 अप्रैल से शुरु होने जा रहे आईपीएल के लिए टीमों का कैम्प लगना जल्द ही शुरू हो जाएगा और खिलाड़ी जुटमे शुरु हो जाएंगे.   

इस अनचाहे रिकॉर्ड के मामले में आशीष नेहरा और यूसुफ पठान से भी आगे निकले ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा

क्रिकेट में गेंदबाजों के लिए भी हेलमेट अनिवार्य हो: न्यूजीलैंड क्रिकेटर वॉरेन बार्न्स

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App