नई दिल्लीः जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स नामक कंपनी ने आईपीएल टीम दिल्ली डेयरडेविल्स में 50 प्रतिशत की भागीदारी खरीद ली है. जिंदल साउथ वेस्ट (जेएसडब्ल्यू) ने दिल्ली डेयरडेविल्स के मालिकाना समूह जीएमआर स्पोर्ट्स को करीब 550 करोड़ रूपए देकर यह भागीदारी खरीद ली है. इस तरह जेएसडब्ल्यू समूह भी जीएमआर स्पोर्ट्स की तरह दिल्ली डेयरडेविल्स का सहमालिक हो गया है.हालांकि इस डील पर अभी आईपीएल गवर्निंग कॉउंसिल की मुहर लगनी बाकी है. इस मामले को 16 मार्च को आईपीएल संचालन परिषद के समक्ष रखा जायेगा लेकिन यह करार पक्का लगता है. अब सिर्फ औपचारिकता मात्र है.

वैसे आईपीएल के इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि जब किसी टीम ने अपने शेयर का इतना बड़ा हिस्सा किसी कंपनी को बेचा है. 2008 में जब बीसीसीआई, आईपीएल टीमों की नीलामी कर रही थी तो जीएमआर ग्रुप ने दिल्ली डेयरडेविल्स टीम को 84 मिलियन डॉलर में खरीदा था. दिल्ली डेयरडेविल्स ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा जीएमआर ग्रुप ने घोषणा की कि उसने जेएसडब्ल्यू से जीएमआर स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड( जीएसपीएल) की जीएमआर ग्रुप्स क्रिकेट फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स में 50-50 प्रतिशत की हिस्सेदारी पर करार किया है. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि दिल्ली डेयरडेविल्स के प्रबंधन ढांचे में कुछ बदलाव होगा कि नहीं.

बीसीसीआई के एक आला अधिकारी ने इस डील पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि यह पार्टनरशिप आईपील के लिए काफी अच्छा है. वहीं जेएसडब्ल्यू की ओर से पार्थ जिंदल ने कहा कि हमारी कंपनी खेलों में हमेशा ही निवेश करती है. अभी हमारे पास आईएसएल की टीम बेंगलुरू एफसी में भी शेयर्स हैं. इसके अलावा जेएसडब्ल्यू कई ओलंपिक खिलाड़ियों की भी मदद करती है.

मोहम्मद शमी के मामले में बीसीसीआई ने झाड़ा पल्ला, आईपीएल खेलने पर भी संदेह

आईपीएल 11: कोलकाता नाइट राइडर्स को दो बार खिताब जीताने वाले गौतम गंभीर बने दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App