नई दिल्ली: एशियाई खेल शुरू होने से पहले भारत को बड़ा झटका लगा है. भारत की विश्व चैंपियन भारोत्तोलक साइखोम मीराबाई चानू एशियाई खेल में शामिल होने पर असहमति जताई हैं. पीठ की दर्द से जुझ रहीं मीराबाई ने इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन को पत्र लिखकर उनको आराम देने का आग्रह किया है. मीराबाई ने कहा कि वह ओलंपिक क्वालीफायर के लिए खुद को तैयार करना चाहती हैं.

बता दें कि कुछ दिन पहले भारत के मुख्य कोच विजय शर्मा ने मीराबाई चानू को सलाह दी थी कि वे जकार्ता में होने वाले एशियाई खेलों से अपना नाम वापस लेकर नवंबर में होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर की तैयारी करें. बता दें कि मणिपुर की रहने वाली मीराबाई चानू ने पिछले साल नवंबर में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में 48 किलो ग्राम के भारवर्ग में 194 का भार उठाकर भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता था. इसके अलावा मीराबाई चानू राष्ट्रमंडल खेल में 196 किलो ग्राम वजन उठाकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया था. यह उनका राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी हैं.

अब चर्चा है कि मीराबाई पिछले दो महीने से पीठ की दर्द से परेशान हैं. पिछले सप्ताह उनको कुछ आराम मिला था जिसके बाद वो अभ्यास करने लौटी थीं लेकिन दर्द फिर से शुरू होने के बाद अभ्यास रोकना पड़ा. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टरों का कहना है कि उनके लिगामेंट में हल्टी चोट है जिसका पता एमआरआई और सिटी स्कैन से भी नहीं चल पा रहा है. मीराबाई चानू की ओर से लेटर लिखे जाने के बाद अब वेटलिफ्टिंग फेडरेशन क्या फैसला लेता है ये जल्दी साफ हो जाएगा.

मीराबाई की जगह किसको भेजा जाता है ये भी साफ हो जाएगा. बता दें कि जकार्ता में खेला जाने वाले एशियाई खेलों की शुरुआत रविवार, 18 अगस्त से होगी. जबकि आखिरी मुकाबले रविवार 2 सितंबर को खेले जाएंगे. इसके लिए भारत की ओर से हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों के नाम का ऐलान पहली ही हो चुका है.

सुनील गावस्कर बोले- कपिल देव तो 100 साल में एक बार पैदा होता है, हार्दिक पांड्या से तुलना बकवास

India vs England: इंग्लैंड को लगा बड़ा झटका, बेन स्टोक्स के स्थान पर क्रिस वॉक्स दूसरे टेस्ट में शामिल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App