नई दिल्ली: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी रविवार को एक बार फिर अपने पुरानी लय में नजर आए. इंडियन प्रीमियर लीग 2018 में रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच रोमांचक मुकाबला देखने को मिला था. इस मैच में चेन्नई की टीम को 4 रनों से शिकस्त झेलनी पड़ी. हालांकि पंजाब की इस जीत में चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी की पीठ के दर्द एक बड़ी वजह रही. इस मैच में धोनी ने 44 गेंदों पर 79 रनों की नाबाद पारी खेली थी. धोनी अपनी पारी के दौरान पीठ दर्द की वजह से काफी परेशान दिखे थे. मैच के बाद अब पंजाब के किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज लोकेश राहुल ने भी इस बात को स्वीकार किया है कि उनकी टीम ने मैच जीतने के लिए धोनी के पीठ के दर्द का फायदा उठाया.

मैच के बाद मीडिया से मुखातिब हुए लोकेश राहुल ने कहा कि हमारी टीम की योजना थी कि धोनी को वाइड यॉर्कर डाली जाए, क्योंकि वह अपनी पीठ दर्द की वजह से काफी दिक्कत में नजर आ रहे थे. लेकिन पीठ दर्द हो या ना हो, अगर गेंद धोनी के रडार में पिच हुई तो उसका बाउंड्री के बाहर जाना तय है. यह मैच हमारी गेंदबाजी आक्रमण के लिए सीखने का अच्छा अनुभव रहा, लेकिन अभी ipl
 की यह शुरुआत ही है.

बता दे कि रविवार, 15 अप्रैल को मोहाली में खेले गए मैच में चेन्नई सुपर किेंग्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. किंग्स इलेवन पंजाब ने निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए. सीजन का पहला मुकाबला खेल रहे क्रिस गेल ने विस्फोटक पारी खेलते हुए 33 गेंद में 63 रन बनाए. पंजाब के 197 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स को केवल चार रनों से हार का सामना करना पड़ा. धोनी ने मैच के आखिरी गेंद पर भी दमदार छक्का जड़ा.

कौन है PAK क्रिकेट टीम में दस्तक देने वाला पहला सिख क्रिकेटर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App