नई दिल्ली. आईपीएल टीम दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की कप्तानी संभाल चुके गौतम गंभीर को टीम ने उनके खराब प्रदर्शन के चलते उन्हें एक्स्ट्रा खिलाड़ियों में डाल दिया है. गंभीर ने अपने खराब खेल के बाद कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था. जिसके बाद बल्‍लेबाज श्रेयस अय्यर को टीम की कमान सौंपी गई. हालांकि श्रेयस ने गंभीर को खिलाने के संकेत दिए हैं लेकिन इस्तीफे के बाद बिना पैसे लिए खेलने को तैयार रहने के बावजूद गंभीर को प्लेइंग 11 में नहीं रखे जाने से कयास लगाए जा रहे हैं कि उनका क्रिकेट करियर लगभग खत्म हो चुका है.

गौरतलब कि आईपीएल के इस सीजन में दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स ने गंभीर के नेतृत्व में छह मैच खेले थे जिनमें से 5 में टीम को हार मिली. ऐसे में 10 सीजन में तीन बार सबसे नीचे रह चुकी दिल्ली एक बार फिर अंक तालिका में नीचे आ सकती है. वहीं कुल 6 मैचों में गंभीर ने मात्र 85 रन बनाए हैं. पंजाब के खिलाफ उन्होंने 55 रन बनाकर सिर्फ एक अर्धशतक लगाया जबकि बाकी के मैचों में वे 3,8,4 या 15 रनों पर ऑउट हो गए. आईपीएल के इस सीजन में दिल्ली ने गौतम गंभीर को 2.80 करोड़ रुपये में खरीदा था. 96.59 के साथ गंभीर का सभी टीमों के 8 कप्तानों के मुकाबले सबसे खराब स्‍ट्राइक रेट है. वहीं इस मामले में 151 से ज्‍यादा की स्‍ट्राइक से रन बनाकर महेंद्र सिंह धोनी सबसे आगे हैं और ये चेन्नई के प्रदर्शन में साफ देखा जा सकता है.

बताते चलें कि गौतम गंभीर ने 2007 टी-20 और 2011 के विश्व कप में बेहद अहम भूमिका निभाई थी. लेकिन उसके बाद मैदान में उनके प्रदर्शन में लगातार गिरावट से वह धीरे-धीरे दोनों ही फ़ॉर्मेट से बाहर हो गए. जिसके 2013 में उन्होंने आख़िरी वनडे इंग्लैंड के खिलाफ खेला था. फिलहाल गंभीर इतनी धीमी गति से खेल रहे है कि इससे उनसे साथी खिलाड़ी पर दबाव बनता है और टीम को भी इसका नुकसान उठाना पड़ता है. दिल्ली डेयरडेविल के सीईओ हेमंत दुआ ने ने कहा है कि गौतम गंभीर टीम के मेंटॉर खिलाड़ी की भूमिका में होंगे. ऐसे में गंभीर के खेलने की उम्मीद कम ही है.

IPL 2018: सनराइजर्स हैदराबाद को बड़ा झटका, ये स्टार खिलाड़ी हुआ पूरे टूर्नामेंट से बाहर

IPL 2018: इस पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने दिया संजू सैमसन को खुला चैलेंज कहा, दम है तो ये कर के दिखाओ

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App