जामनगर: गुजरात में टीम इंडिया के क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की पत्नी रीवा सोलंकी से पुलिस जवान की बदसलूकी का मामला सुर्खियों में आ गया है. जडेजी की पत्नी जिस बीएमडब्ल्यू कार को चला रही थीं उस कार से एक बाइक सवार पुलिस जवान को ठोकर लग गई और फिर कहा-सुनी में हाथा-पाई हो गई. जामनगर के एसपी प्रदीप शेजुल ने कहा है कि पुलिस वाले के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और विभागीय कार्यवाही भी की जाएगी. लेकिन इस मामले में सबसे चौंकाने वाली बात ये सामने आई है कि रीवा सोलंकी जिस कार को चला रही थीं उसके नंबर प्लेट पर कोई नंबर ही नहीं था. कानूनन कोई भी कार बिना रजिस्ट्रेशन नंबर के सड़क पर नहीं उतर सकती. इससे सवाल खड़ा हुआ है कि क्या रविंद्र जडेजा और उनकी पत्नी देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी बड़े वीआईपी हैं कि वो बिना नंबर प्लेट की गाड़ी को दौड़ाएंगे और कानून उनके खिलाफ चुप्पी साध लेगा.

ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट और ट्रैफिक पुलिस का नियम है कि कार बेचने वाली एजेंसी या शोरूम से कोई भी गाड़ी अगर बिकती है तो उसके नंबर प्लेट पर टेंपोरेरी यानी अस्थायी रजिस्ट्रेशन नंबर लगा दिया जाता है. इससे गाड़ी अगर किसी दुर्घटना को अंजाम देकर भागे तो उसकी पहचान हो सकती है. स्थायी रजिस्ट्रेशन नंबर ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट देता है जिसके मिल जाने के बाद नंबर प्लेट पर वो नंबर लगा दिया जाता है. रविंद्र जडेजा की पत्नी की कार के नंबर प्लेट पर बीएमडब्ल्यू की कार और उसका मॉडल नंबर लिखा था जो पूरी तरह गैर कानूनी है. जामनगर पुलिस ने अगर ठोकर लगने के बाद हाथापाई करने वाले पुलिस जवान पर कार्रवाई की है तो उसे जडेजा की पत्नी पर भी कार्रवाई करनी चाहिए जो बिना नंबर प्लेट के गाड़ी घुमा रही थीं. ऐसा नहीं होने पर यही समझा जाएगा कि क्रिकेटर और उनके परिवार के लिए कानून तोड़ने की छूट है.

रविंद्र जडेजा की बीवी रीवा सोलंकी से पुलिस वाले का झगड़ा

रिपोर्ट के अनुसार, रविंद्र जड़ेजा की पत्नी रीवा अपनी बीएमडब्लू कार से जा रहीं थी. उनकी कार की टक्कर एक मोटर बाइक से हो गई जिसे एक पुलिसकर्मी चला रहा था. एक्सीडेंट के बाद पुलिसकर्मी से रीवा का झगड़ा हो गया और बात हाथा-पाई तक पहुंच गई. इतने में वहां भीड़ जमा हो गई. विवाद बढ़ता देखते लोगों ने बीच-बचाव कर रीवा को डीएसपी ऑफिस भेज दिया. पुलिसकर्मी का नाम संजय भाई बताया जा रहा है जिसके खिलाफ एक्शन लेने की बात एसपी प्रदीप शेजुल ने की है.

जामनगर के एसपी प्रदीप शेजुल ने कहा कि यह घटना बेहद निंदनीय है. पुलिस कप्तान होने के नाते जो भी मदद हो सकेगी, वो रीवा के लिए करेंगे. इस मामले में राज्य सरकार की ओर से भी सख्त कार्रवाई का आदेश मिला है. पुलिसकर्मी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. अब सवाल यहां यह उठता है कि दोषी पुलिसकर्मी पर कार्रवाई तो होगी लेकिन क्या जडेजा की पत्नी पर भी ट्रैफिक कानून की ऐसी-तैसी करके रौब गांठने के लिए कोई एक्शन लिया जाएगा या वीवीआईपी को कानून गुजरात में कानून तोड़ने की छूट है.

शाहिद अफरीदी ने इंसानियत की खातिर उठाया ये कदम, दुनियाभर से मिल रही हैं तारीफें

क्रिकेटर रविंद्र जड़ेजा की ऑडी कार का एक्सीडेंट, स्कूटी सवार युवती को लगी चोट

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App