नई दिल्ली: भारत-पाकिस्तान मैच के बीच तनाव का आलम क्या होता है ये किसी से छिपा नहीं है. दोनों देशों में भारत-पाकिस्तान मैच को सिर्फ एक क्रिकेट मैच की तरह नहीं देखा जाता. ये बात ना सिर्फ दर्शकों पर बल्कि खिलाड़ियों पर भी लागू होती है. दोनों देशों के खिलाड़ी मैदान पर एक दूसरे के धुर विरोधी हो जाते हैं. ऐसा ही एक किस्सा भारतीय गेंदबाज हरभजन सिंह ने सुनाया जब वो और मोहम्मद युनूस एक दूसरे को खाना खाने वाले कांटे से मारने उठे थे. मामला 16 साल पहले 2003 वर्ल्ड कप का है.

हरभजन सिंह के मुताबिक साउथ अफ्रीका के सेंचुरियन क्रिकेट ग्राउंड पर भारत-पाकिस्तान के बीच वर्ल्ड कप का मैच था. बतौर हरभजन ‘उस मैच में मुझे ड्रॉप कर अनिल कुंबले को टीम में रखा गया था क्योंकि पाकिस्तान के खिलाफ कुंबले का रिकॉर्ड अच्छा था. मैं ग्राउंड से बार बेंच पर बैठा था और दूसरी तरफ शोएब अख्तर और युसूफ खान बैठे थे. हम तीनों पंजाबी बोलते थे. अचानक हमने एक दूसरे की टांग खींचनी शुरू कर दी. युनूस ने पहले मुझे व्यक्तिगत कमेंट किया और फिर मेरे धर्म पर कमेंट किया’

हरभजन आगे कहते हैं कि ‘मैंने युनूस को मुंहतोड़ जवाब दिया. हम दोनों के हाथ में खाना खाने वाला कांटा था जिसे लेकर हम खड़े हो गए और गुस्से में एक दूसरे को कांटे से मारने के लिए उठे. इतने में राहुल द्रविड और जवागल श्रीनाथ ने मुझे पकड़ा वहीं दूसरी तरफ वसीम अकरम और सईद अजमल ने युसूफ को पकड़ा. दोनों तरफ के सीनियर खिलाड़ियों ने परिस्थिति को संभाला और हमें डांटते हुए कहा कि ये सही व्यवहार नहीं है.’

हरभजन ने 16 साल पहले के किस्से को याद करते हुए कहा कि अब जब भी मैं और युनूस खान मिलते हैं तो उस बात को याद करके हंसते हैं. उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ियों का रिश्ता हमेशा दोस्ताना रहा है. हम एक साथ घूमते हैं. खाते-पीते हैं लेकिन जब हम मैदान पर जाते हैं तो दोस्ती पीछे छोड़कर जाते हैं.

ICC World Cup 2019 India Vs Pakistan Match: लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है भारत-पाकिस्तान मैच का खुमार, 60 हजार रूपये तक की टिकट खरीदनें के लिए मची होड़

ICC Cricket World Cup 2019 ENG vs WI Live Online Streaming: पाकिस्तान में जानें कब, कहां और कैसे देखें इंग्लैंड बनाम वेस्टइंडीज क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 मैच का लाइव प्रसारण

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App