माउंट मौंगानुई. भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेली जारी पांच एकदिवसीय मैचों की सीरीज का तीसरा मैच 28 जनवरी को माउंट मौंगानुई में खेला जाएगा. टीम इंडिया ने 26 जनवरी को इसी मैदान पर खेले गए वनडे मैच में कीवी टीम को 90 रनों से धूल चटाई. इससे पहले नेपियर में खेले गए वनडे मैच में भी भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को पटखनी दी थी. मौजूदा सीरीज में टीम इंडिया न्यूजीलैंड से 2-0 से आगे है. तीसरे वनडे मैच न्यूजीलैंड के लिए करो या मरो वाला होगा. वैसे ये मैच टीम इंडिया के लिए भी काफी अहम है. टीम इंडिया अगर ये मैच जीती तो यहीं से वनडे सीरीज भारत नाम दर्ज हो जाएगी. भारत के वनडे क्रिकेट इतिहास में ऐसा 10 साल बाद होगा जब टीम इंडिया कीवियों की धरती पर वनडे सीरीज जीतेगी. इससे पहले भारत ने महेंद्र सिेंह धोनी की कप्तानी में साल 2009 में न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज जीती थी. आइए हम बताते हैं कल के मैच में कौन किस पर भारी पड़ेगा.

  1. टीम इंडिेया में हिट मैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा पिछले कुछ समय से अपने टच में नहीं थे लेकिन 26 जनवरी को खेले गए वनडे मैच में उन्होंने शानदार 87 रन बनाकर फॉर्म में आ चुके हैं. रोहित के अंदर वह माद्दा है कि वह टीम इंडिया के लिए बड़े से बड़ा लक्ष्य अपने बैटिंग के दम पर हासिल कर सकते हैं. रोहित का फॉर्म में आना न्यूजीलैंड गेंदाबाजों की खैर नहीं है.
  2. विराट कोहली का ऑस्ट्रेलिया दौरे से लेकर न्यूजीलैंड तक शानदार प्रदर्शन जारी है. अब खेले गए दोनो में मैच में विराट ने 88 रन बना चुके हैं. विराट हमेशा चेज करते हुए जीतना पसंद करते हैं. उन्होंने दर्जनों बार टीम इंडिया को स्कोर का पीछा करते हुए जिताया है. वहीं ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले महेंद्र सिंह धोनी के बारे में कहा जा रहा था कि अब उनमें क्रिकेट नहीं बची है. लेकिन ऑस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज में प्लेयर ऑफ द सीरीज का अवार्ड हासिल कर उन्होंने सिद्ध कर दिया कि वह किसी से कम नहीं हैं वहीं उन्होंने 26 जनवरी को न्यूजीलैंड के खिलाफ ताबड़तोड़ 48 रन बनाए. एमएस धोनी का फॉर्म में आना न्यूजीलैंड के गेंदबाजों के लिए खतरे से खाली नहीं है.
  3. कीवी टीम के लिए चाइनामैन कुलदीप यादव काल बने हुए हैं. कुलदीप अब तक 2 मैचों में 8 विकेट ले चुके हैं. कुलदीप की फिरकी का कीवी बल्लेबाजों के पास कोई जवाब नहीं है. इसके अलावा भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी के आगे भी न्यूजीलैंड के बल्लेबाज बेबस नजर आ रहै. जहां कुलदीप मध्यक्रम और पुछल्ले बल्लेबाजों को आउट करते हैं वहीं भुवनेश्वर और शमी सलामी बल्लेबाजों को टिकने नहीं देते हैं.
  4. तीसरे वनडे मैच में न्यूजीलैंड के बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल, कोलिन मुनरो रॉस टेलर और टॉम लाथम इंडिया के लिए खतरा साबित हो सकते हैं. क्योंकि दो मैच हारने के बाद कीवी तीसरे वनडे में ज्यादा आक्रामक नजर आएंगे. इन बल्लेबाजों में से अगर कोई एक ही बल्लेबाज चल गया तो वह न्यूजीलैंड को जीत दिला देगा.
  5. दूसरी तरफ कप्तान केन विलियमसन आक्रामक और धर्यपूर्ण पारी खेलने की क्षमता रखते हैं. उन्होंने नेपियर में 66 रनों की पारी खेली थी. भारत का अगर तीसरा वनडे मैच जीतना है तो केन विलियमसन को जल्दी आउट करना होगा. इसके अलावा डग ब्रासवेल के बारे में भी टीम इंडिया को रणनीति बनानी होगी.

India vs New Zealand 3rd ODI: महेंद्र सिंह धोनी 60 रन बनाते ही विराट कोहली को इस मामले में पीछे छोड़ रचेंगे इतिहास

India vs New Zealand 2nd Odi: कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल और भुवनेश्वर के कहर से ढहा कीवियों का किला, दूसरे वनडे में न्यूजीलैंड ने टेके घुटने

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर