लंदनः इंग्लैंड के खिलाफ 1-3 से श्रृंखला गंवाने के बावजूद भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री अभी भी विराट कोहली की सेना को विदेशी दौरों पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम मानते हैं. रवि शास्त्री ने सीरीज में हार के बाद टीम का बचाव करते हुए कहा कि इस टीम ने वह मुकाम हासिल कर लिया है जो इससे पहले 15-20 सालों में किसी भी भारतीय टीम ने हासिल नहीं किया. पिछले 3 साल में भारतीय टीम ने विदेशों में 9 टेस्ट मैच और 3 सीरीज जीते हैं जो कि एक रिकॉर्ड है.

भारतीय कोच ने कहा कि मुझे नहीं लगता पिछले 15-20 सालों में किसी भी भारतीय टीम ने यह मुकाम हासिल किया है, जबकि इस दौरान कई महान खिलाड़ी भारतीय टीम में खेलें. रवि शास्त्री का यहां साफ इशारा सचिन, गांगुली, द्रविड़, लक्ष्मण, कुंबले और जहीर खान पर था. शास्त्री ने कहा कि बेशक यह सीरीज इंग्लैंड ने 3-1 से जीत ली है लेकिन यह आंकड़ा इसके उलट भी हो सकता था. हम या तो 3-1 से आगे होते या फिर सीरीज 2-2 से बराबर होता.

शास्त्री ने कहा कि टीम को इस सीरीज के नतीजे से निश्चित रूप से काफी दुख पहुंचा है. उन्होंने कहा कि इस टीम को अपने आपको मानसिक रूप से मजबूत होना होगा ताकि अंतिम समय पर यह टीम चूके नहीं. शास्त्री ने कहा कि टीम को सीखना होगा कि अंतिम समय में कैसे धैर्य रखते हुए मैच को अपने पक्ष में खत्म किया जाए.

विराट कोहली ने फिंगरगेट प्रकरण को किया याद, माना जिंदगी की सबसे बड़ी गलती

निम्रत कौर के साथ अफेयर की खबरों पर रवि शास्त्री की सफाई, कहा- ये आरोप गोबर की उपलों की तरह

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App