ओवलः इंग्लैंड के जीत की जश्न में एक बार फिर से उसके दो प्रमुख स्पिनर मोइन अली और आदिल राशिद शामिल नहीं हो सकें. दरअसल ट्रॉफी मिलने के बाद इंग्लैंड के खिलाड़ी पोडियम पर फोटो खिंचा रहे थे. इस दौरान कुछ खिलाड़ियों ने शैंपेन खोल ली. इसके तुरंत बाद ही मोइन अली और आदिल राशिद पोडियम से उतर कर इंग्लिश टीम से अलग हो गए. शैंपेन खुलने के चंद सेकेंड बाद ही मोइन और राशिद बहुत तेजी से पोडियम से उतरे ताकि उनके ऊपर शैंपेन की बूंद ना पड़ सके. इसके बाद मैदान पर भी जब विजेता टीम का फोटो सेशन हो रहा था तब भी ये दोनों क्रिकेटर शैंपेन खुलने के बाद टीम से अलग हो गए.

इन क्रिकेटरों के इस व्यवहार का सोशल मीडिया पर कई लोग मजाक उड़ा रहे हैं तो कई लोग लिख रहे हैं कि इस वजह से वह मोइन अली और आदिल राशिद खान का सम्मान करते हैं. दरअसल मुस्लिम धर्म में शराब और शराब से जुड़ी किसी भी चीज को धर्म के विरूद्ध माना जाता है. इसलिए कई मुस्लिम क्रिकेटर ऐसे वस्तुओं के विज्ञापनों से भी बचते हैं. सिर्फ मोइन अली और आदिल राशिद ही नहींं उस्मान ख्वाजा, हाशिम हमला जैसे कई ऐसे बड़े नाम हैं जो अपनी क्रिकेट जर्सी पर भी शराब के विज्ञापनों से बचते हैं, जबकि वह पूरे टीम की जर्सी पर होता है.

 

VIDEO: रवींद्र जडेजा ने अंपायर से बदलवाई गेंद और फिर उखाड़ दिया मोइन अली का स्टम्प

VIDEO: एलिएस्टर कुक को पहले ट्रोल किया फिर विदाई पर जमकर रोए विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले जेम्स एंडरसन