ओवल, लंदनः टेस्ट मैचों में डेब्यू कर रहे भारत के मध्यक्रम के बल्लेबाज हनुमा विहारी अपने पहले मैच में ही घायल होने से बाल-बाल बचे. इंग्लैंड की पारी के दौरान बेन स्टोक्स ने रवींद्र जडेजा की गेंद पर एक तेज शॉट मारा. उन्होंने पैडल स्वीप कर यह शॉट मारा, जो शॉर्ट लेग पर खड़े हनुमा विहारी के आंख के पास लगा. बल्लेबाज का यह शॉट इतना तेज था कि वह यह शॉट मारने के बाद तुरंत हतप्रभ हो गया. मैदान पर खड़े भारतीय खिलाड़ियों को भी कुछ समझ नहीं आ रहा था. सभी खिलाड़ी दौड़ कर विहारी के पास पहुंचे और उनका हाल पूछा कि वह ठीक हैं या नहीं.

इसके अलावा टीम के फिजियो पैट्रिक फॉरहार्ट भी पवेलियन से दौड़े-दौड़े आए. उन्होंने आकर तुरंत विहारी को पहले स्प्रे किया ताकि दर्द से राहत मिले. इसके बाद उन्होंने विहारी से गर्दन घुमवाकर उनसे सामान्य एक्सरसाइज कराई ताकि पता चल सके कि वह पूरी तरह से होश में हैं या नहीं. अक्सर सिर पर चोट लगने के बाद आदमी को चक्कर आने लगता है तथा अचानक से जमीन पर गिरने (कोलैप्स होने) का भी खतरा बना रहता है. फॉरहार्ट जब पूरी तरह से सुनिश्चित हो गए तो फिर खेल शुरू हो पाया. यह शॉट इतना तेज था कि आस-पास खड़े खिलाड़ियों के मन में भी डर आ गया था कि कहीं यह चोट अधिक गंभीर तो नहीं. इसलिए चोट लगने के बाद कई खिलाड़ी मुंह पर हाथ रखे दिखाई दिए.

आपको बता दें कि क्रिकेट में कई खिलाड़ी चोट लगने के कारण अपनी जान गवां चुके हैं. वहीं कई खिलाड़ियों का चोट के कारण करियर भी बर्बाद हो गया है.

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App