लंदनः चौथे टेस्ट में करारी हार के बाद पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच में भारतीय टीम में कुछ आमूलचूल और बड़े परिवर्तन देखने को मिल सकते हैं. 19 वर्षीय पृथ्वी शॉ को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण का मौका मिल सकता है. उन्हें सलामी बल्लेबाज केएल राहुल की जगह मौका मिल सकता है. राहुल का इस सीरीज में प्रदर्शन खासा निराशाजनक रहा है. उन्होंने 4 मैचों की 8 पारियों में 14 की मामूली औसत से 113 रन बनाए. इस मैच में केएल राहुल का बाहर निकलना और पृथ्वी शॉ का डेब्यू लगभग तय माना जा रहा है.

इसके अलावा टीम में रविचंद्रन आश्विन की जगह रवींद्र जडेजा को भी शामिल किया जा सकता है. इस सीरीज में आश्विन का प्रदर्शन अन्य खिलाड़ियों की अपेक्षा अच्छा शानदार रहा है. उन्होंने गेंद और बल्ले दोनों से उपयोगी भूमिकाएं निभाई है. लेकिन साउथैम्पटन के अंतिम टेस्ट में वह उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए, जहां उनसे गेंद से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी. जहां इंग्लैंड के ऑफ स्पिनर मोइन अली ने 9 विकेट लेकर मैच जीताऊ योगदान दिया और मैन ऑफ दी मैच झटका, वहीं आश्विन इस मैच की दो पारियों में सिर्फ 3 विकेट ले पाए और इंग्लैंड के पुछल्ले बल्लेबाजों को क्रीज पर जमने का मौका दिया.

इसके अलावा टीम के मध्य क्रम में भी एक बदलाव हो सकता है. जब भारतीय टीम सीरीज हार चुकी है और उसके पास खोने को कुछ नहीं है, तब भारतीय टीम दौरे पर गए मध्य क्रम के बल्लेबाज करूण नायर को भी आजमा सकती है. वह उपकप्तान आजिंक्य रहाणे की जगह ले सकते हैं.

Ind vs Eng: टीम इंडिया के प्रदर्शन से खुश नहीं सुनील गावस्कर, कहा- विराट कोहली की कप्तानी ने निराश किया

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App