नई दिल्ली. क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत होने में सिर्फ 13 दिन बचे हैं. 2019 क्रिकेट विश्व कप का आयोजन इंग्लैंड और वेल्स में किया गया है. ये क्रिकेट विश्व कप का 12वां आयोजन है. ऐसे में ये कयास लगाए जा रहे हैं कि विश्व कप 2019 का खिताब कौन सी टीम जीतेगी. वर्ल्ड कप में शामिल लेने वाली टीमों पर अगर नजर डाली जाए तो इंग्लैंड की टीम सबसे सशक्त नजर आ रही है. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि इस बार इंग्लैंड की टीम अपनी धरती पर क्रिकेट विश्व कप जीतने में सफल होगी. ऐसा इसलिए भी कहा जा सकता है कि बीते कुछ वर्षों ने इंग्लैंड की टीम ने अपनी धरती पर एकदिवसीय मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है. इतना ही नहीं इंग्लिश टीम के नाम वनडे क्रिकेट में बनाया गया सर्वोच्च स्कोर भी दर्ज है. इ्ंग्लैंड ये करिश्मा दो बार किया है. इंग्लैंड ने ये स्कोर बीते साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था. इस बार ऐसी उम्मीद की जा रही कि इंग्लैंड की टीम विश्व कप में 500 रनों के आंकड़े को पार कर सकती है.

मौजूदा समय में इंग्लैंड की टीम जिस तरह से खेल रही है उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि ये टीम क्रिकेट विश्व 2019 में धमाल मचाएगी. इंग्लैंड दुनिया की एक ऐसी टीम है जो साल 2015 के विश्व कप के बाद से दो बार वनडे क्रिकेट में सबसे अधिक रन बना चुकी है. इंग्लैंड ने सबसे पहले 30 अगस्त 2016 को ट्रेंट ब्रिज नॉटिंघम में पाकिस्तान के खिलाफ तीन विकेट पर 444 रन बनाए. इस मैच में एलेक्स हेल्स ने शानदार 171 रनों की पारी खेली. उनके अलावा जो रूट और जोस बटलर ने आतिशी अर्धशतक लगाए. इंग्लिश टीम ने इस मुकाबले में पाकिस्तान को 169 रनों से शिकस्त दी थी.

19 जून 2018 को नॉटिंघम में ही एक बार फिर इंग्लैंड की टीम ने कमाल किया. इस बार उसके सामने आस्ट्रेलिया की टीम थी. इस मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 481 रन बनाए. इंग्लिश टीम महज 19 रनों से 500 रनों का आंकड़ा छूने से वंचित रह गई. इस मैच में जॉनी बेयरिस्टो (139) और एलेक्स हेल्स ने 147 रनों की पारियां खेलीं. इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया से ये मुकाबला 242 रनों से जीता.

रनों से भरे नॉटिंघम क्रिकेट ग्राउंड पर क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के 5 मैच खेले जाएंगे. 13 जून को इस मैदान पर न्यूजीलैंड और भारत के बीच मुकाबला होगा. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया इस मैदान पर विशाल स्कोर बनाएगी.

जहां तक विश्व कप में 300 या उससे ज्यादा स्कोर करने की बात है तो भारत के खिलाफ ये रिकॉर्ड सबसे पहले इंग्लैंड ने बनाया था. 7 जून 1975 को लॉर्ड्स में खेले गए मैच में इंग्लिश टीम ने भारत के खिलाफ 334 रनों का विशाल स्कोर बनाया. इस मैच में इंग्लैं की ओर से डेनिस एमिस ने शतकीय पारी खेली थी.

क्रिकेट वर्ल्ड कप में सबसे पहले 350 या उससे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के नाम दर्ज है. 13 अक्टूबर 1987 को कराची में श्रीलंका के खिलाफ खेलते हुए कैरेबियन टीम ने 4 विकेट पर 360 रन बनाकर ये करिश्मा किया. वेस्टइंडीज की ओर से इस मुकाबले में डेसमंड हेंस (105) और विवियन रिचर्ड्स ने (181) रनों की पारियां खेली थीं.

वनडे क्रिकेट में सबसे पहले 400 या उससे ज्यादा रन बनाने का आंकड़ा ऑस्ट्रेलिया ने पार किया. 12 मार्च 2006 को जोहान्सबर्ग में ऑस्ट्रेलिया ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 4 विकेट पर 434 रन बनाए. कंगारू टीम की ओर से इस मैच में रिकी पॉन्टिंग ने 164 रनों की पारी खेली. हालांकि इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को हार मिली थी. साउथ अफ्रीका ने ये 1 विकेट से जीता था. दक्षिण अफ्रीका की तरफ से हर्शल गिब्स ने 175 रनों की तूफानी पारी खेली.

जहां तक एकदिवसीय क्रिकेट में 450 या उससे अधिक रन बनाने की बात है तो ये करिश्मा इंग्लैंड ने किया है. 19 जून 2018 को नॉटिंघम में इंग्लैंड ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 6 विकेट पर 481 रन बनाए. वहीं साल 2019 में इंग्लैंड की टीम एक पाकिस्तान के खिलाफ खेल रही पांच वनडे मैचों की सीरीज के दूसरे मुकाबले में 373 रन बना चुकी है. इसके अलावा तीसरे मैच में पाकिस्तान द्वारा बनाए गए 358 रनों के लक्ष्य को इंग्लिश टीम ने 5 ओवर शेष रहते हासिल कर लिया. इंग्लैंड के इस प्रदर्शन को देखकर ऐसा लगता है कि उसके खिलाफ दूसरी टीमों की राह आसान नहीं होगी.

ICC Cricket World Cup 2019: क्रिकेट वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत को पहले मैच में बदलना होगा बीस साल पुराना इतिहास

ICC Cricket World Cup 2019: भारत के लिए लकी नहीं है साउथैम्पटन का रोज बाउल ग्राउंड, क्या साउथ अफ्रीका के खिलाफ क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में पहला ही मैच हार जाएगी टीम इंडिया !

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App