नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने चार दिसंबर को अपने ट्विटर पर पोस्ट करके क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया था. हालांकि उनका आखिरी मैच आज था जो कि रणजी ट्रॉफी में दिल्ली की टीम के लिए खेला. संन्यास के बाद गंभीर ने आंध्र प्रदेश की टीम के खिलाफ फिरोजशाह कोटला मैदान पर शतकीय पारी खेली और अपनी ही फेयरवेल पार्टी में चार चांद लगा दिए. आंध्र प्रदेश की टीम ने अपनी पहली पारी में 121 ओवर में 390 रन बनाए और फिर दिल्ली की तरफ से ओपनिंग करने आए गंभीर ने 185 गेंदों का सामना किया. इस दौरान उनके बल्ले से 10 चौके निकले और तूफानी पारी खेलेत हुए उन्होंने 112 रन बनाकर अपने क्रिकेट करियर की अंतिम पारी को खत्म किया.

जब गंभीर इस मैच में मैदान पर आए थे तो उनको पारी से पहले साथी खिलाड़ियों ने गार्ड ऑफ ओनर भी दिया. बता दें कि गौतम गंभीर टीम इंडिया के 2007 और 2011 वर्ल्डकप के हीरो थे. इसके साथ ही उन्होंने आईपीएल में भी अपना कप्तानी में केकेआर को 2012 और 2014 में दो बार खिताब दिलाया है. हालांकि इस बार वह आईपीएल में दिल्ली के कप्तान थे लेकिन कुछ समस्याओं के चलते उन्होंने खुद कप्तानी छोड़ दी थी. टीम इंडिया के लिए गौतम गंभीर ने 58 टेस्ट मैचों में 4154 रन बनाए है, जिसमें नौ शतक शामिल है. इसके साथ ही उन्होंने 147 वनडे मैचों में 5238 रन बनाए, इस दौरान उन्होंने 11 शतक लगाए हैं.

गौरतलब है कि गंभीर ने चार दिसंबर को ट्वीट करते हुए लिखा , ‘सबसे मुश्किल फैसले भारी दिल से लिए जाते हैं. आज भारी मन से मैं वह ऐलान कर रहा हूं, जिससे मैं पूरी जिंदगी डरता रहा.’ ​इसके साथ ही उन्होंने एक वीडियो का लिंक पोस्ट किया 12 मिनट लंबे इस वीडियो पोस्ट में उन्होंने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा, ‘अपने देश के लिए 15 साल से भी अधिक समय तक क्रिकेट खेलने के बाद मैं इस खूबसूरत खेल से अलविदा कहना चाहता हूं.’

Gautam Gambhir Cricket Retirement: क्रिकेट से संन्यास के बाद बीजेपी की टिकट पर दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं गौतम गंभीर

Gautam Gambhir Retirement: गौतम गंभीर का संन्यास का ऐलान, भारतीय क्रिकेट टीम में वापसी की गुंजाइश से थे नाउम्मीद

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App